Home » आईपीएल » IPL 2018,CSK vs KXIP: cennai superr kings captain ms dhoni has the best cricketing mind
 

धोनी को समझना मुश्किल ही नहीं.. नामुमकिन है बॉस

शिवराज सिंह | Updated on: 21 May 2018, 13:47 IST

दो साल का प्रतिबंध झेलने के बाद आईपीएल 11 में वापसी करने वाली चेन्नई सुपर किंग्स ने धोनी की कप्तानी में लगातार 9वीं बार प्ले-ऑफ में प्रवेश कर लिया है. धोनी की कप्तानी में एक बार फिर से चेन्नई सुपर किंग्स ने लाजवाब प्रदर्शन किया है. चेन्नई के इस प्रदर्शन में टीम के कप्तान एमएस धोनी की क्रिकेट की समझ की भी अहम भूमिका रही है.

धोनी की क्रिकेट की समझ का हर कोई कायल है. मैदान पर धोनी अपने दिमाग से सामने वाली टीम को कई बार मात दे चुके हैं. धोनी का दिमाग मैदान पर बिजली से भी तेज चलता है. जिसका उदाहरण धोनी मैच दर मैच पेश करते रहते हैं. विपक्षी टीमें धोनी के दिमाग के आगे पस्त हो जाती हैं.

क्रिकेट के जानकार भी धोनी के दिमाग की कई बार तारीफ कर चुके हैं. सीनियर क्रिकेट खिलाड़ियों का मानना है कि धोनी के दिमाग में एक नहीं दो मैच चल रहे होते हैं. एक मैदान पर खेला जा रहा होता है, तो दूसरा धोनी के दिमाग में चल रहा होता है. जिसके बारे में सिर्फ धोनी ही जानते हैं.

धोनी ने मैदान पर कई बार ऐसे फैसले लिए हैं. जिनको देखकर हर कोई हैरान हो गया है. एक बार फिर से धोनी ने अपने फैसले से सबको चौंका दिया. इस बार धोनी के तेज दिमाग का शिकार बने आर अश्विन. धोनी ने अश्विन को मैदानी हार के साथ ही दिमागी हार भी दी है.

IPL twitter

दरअसल रविवार को चेन्नई सुपर किंग्स और किंग्स इलेवन पंजाब के बीच आईपीएल 11 का आखिरी लीग मुकाबला खेला गया. इस मैच में किंग्स इलेवन पंजाब ने चेन्नई सुपर किंग्स को जीत के लिए 154 रनों का लक्ष्य दिया था. लक्ष्य को देखते हुए ऐसा लग रहा था कि चेन्नई सुपर किंग्स मैच को आसानी से जीत लेगी. लेकिन पंजाब ने लक्ष्य का पीछा करने उतरी चेन्नई की शुरुआत खराब कर दी.

IPL twitter

पंजाब की गेंदबाजी के सामने चेन्नई के बल्लेबाज संघर्ष करते दिखाई दे रहे थे. गेंद अच्छे से बल्ले पर नहीं आ रही थी. 27 रनों पर चेन्नई के तीन बल्लेबाज पवेलियन लौट गए थे. चेन्नई की टीम मुश्किल में फंसती दिखाई दे रही थी. सबको लग रहा था कि अब चेन्नई के कप्तान एमएस धोनी बल्लेबाजी करने के लिए क्रीज पर उतरेंगे. लेकिन धोनी ने खुद ना आकर हरभजन सिंह को बल्लेबाजी करने के लिए भेज दिया. धोनी के इस फैसले को लेकर हर कोई हैरान हो गया. भज्जी ने 22 गेंद पर 19 रन बनाए.

IPL twitter

इस दौरान चेन्नई का जरूरी रनरेट 10 के पार कर गया. भज्जी का विकेट गिरने के बाद फिर सबको भरोसा था कि अब धोनी बल्लेबाजी करने के लिए उतरेंगे. लेकिन धोनी फिर भी बल्लेबाजी के लिए नहीं आए. धोनी ने भज्जी के बाद दीपक चहर को बल्लेबाजी करने के लिए भेज दिया.

चेन्नई के फैंस सोचने पर मजबूर हो गए. हर कोई कहने लगा कि इस स्थिति में चहर की जगह पर खुद धोनी को बल्लेबाजी करने के लिए आना चाहिए था. जैसे-जैसे मैच आगे बढ़ रहा था. वैसे-वैसे धोनी के फैंस की धड़कनें तेज होती जा रही थीं. लग रहा था कि चेन्नई इस मैच को हार जाएगी. लेकिन धोनी के दिमाग में तो कुछ और ही चल रहा था.

IPL twitter

दीपक चहर ने धोनी के फैसले को सही साबित करते हुए 20 गेंद पर 1 चौके और 3 छक्के जड़ते हुए 39 रन ठोक दिए. 114 रनों के स्कोर पर चहर के आउट होने के बाद धोनी बल्लेबाजी करने के लिए मैदान पर उतरे. उन्होंने रैना के साथ मिलकर चेन्नई को जीत दिला दी. धोनी ने विजयी छक्का लगाकर टीम को जीत दिलाई.

धोनी ने मैच के बाद अपने प्लान का खुलासा करते हुए कहा कि शुरुआत में गेद बल्ले पर आ नहीं रही थी. पंजाब के तेज गेंदबाज अच्छी गेंद डाल रहे थे. गेंद बल्ले पर नहीं आ रही थी. अंकिंत राजपूत सही लेंथ पर गेंद डाल रहा था. विकेट मिलने से उसका कॉन्फिडेंस बढ़ गया था.

इसी को देखते हुए मैंने भज्जी और चहर को बल्लेबाजी के लिए ऊपर भेजा. ताकि अंकित के ओवर समाप्त हो जाएं. यह एक ट्रंप कार्ड था. जो सक्सेस हो गया. भज्जी और चहर ने अच्छी बल्लेबाजी. इसके साथ ही हमें प्ले-ऑफ में बल्लेबाजी में विकल्प भी मिल गए. 

IPL twitter

वहीं रैना ने कहा कि शुरुआत में विकेट जल्दी गिरने के चलते थोड़ा दबाव आ गया था. धोनी भाई ने भज्जी को भेज दिया. इसके साथ ही एक मैसेज भी भेज दिया कि आराम से बल्लेबाजी करते रहो. आखिरी 4 ओवर में अगर 40 रनों की जरूरत भी होगी तो आराम से बना लिए जाएंगे.

IPL twitter

धोनी ने अपने इन्हीं फैसलों से साबित कर दिया है कि क्रिकेट के बॉस तो वही हैं. उनके दिमाग के सामने कोई नहीं टिक सकता.

First published: 21 May 2018, 13:41 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी