Home » आईपीएल » IPL 2018: Kings XI Punjab batsman David Miller feels every batsmen improve his performance in every match
 

IPL 2018: T20 का सबसे धाकड़ बल्लेबाज बोला- हर मैच में पारी को संवारना जरूरी

न्यूज एजेंसी | Updated on: 18 April 2018, 18:29 IST

अपनी विस्फोटक शैली के लिए मशहूर दक्षिण अफ्रीकी बल्लेबाज डेविड मिलर का कहना है कि एक अच्छे बल्लेबाज के लिए जरूरी है कि वह हर मैच में अपनी पारी को संवारे. इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के 11वें संस्करण के लिए किंग्स इलेवन पंजाब टीम में शामिल किए गए मिलर ने आईएएनएस के साथ साक्षात्कार में मैदान और उसके बाहर की जिंदगी से जुड़ी कई चीजों को साझा किया.

पिछले साल मिलर ने T20 में सबसे तेज शतक लगाने वाले खिलाड़ी की उपलब्धि हासिल की थी। इस क्रम में उन्होंने फाफ डु प्लेसिस को भी पछाड़ा था. मिलर ने पिछले साल अक्टूबर में बांग्लादेश के खिलाफ T2o मैच में केवल 35 गेंदों में शतक पूरा किया था, जो T-20 प्रारूप का सबसे तेज शतक रहा। उन्होंने इस क्रम में फाफ डु प्लेसिस के साथ-साथ रिचर्ड लेवी का रिकॉर्ड भी तोड़ा. 

इस उपलब्धि को हासिल करने के बाद अपनी भावनाओं के बारे में मिलर ने कहा, "मुझे इस बात की बहुत खुशी है कि मैंने प्लेसिस का रिकॉर्ड तोड़ा. क्रिकेट में लय बनाए रखना बहुत मुश्किल है. हर मैच में आपको नई शुरुआत करनी होती है और अपनी पारी को संवारना होता है."

मिलर ने आगे कहा, "इस प्रकार की पारी से मुझे आत्मविश्वास मिलता है, जिससे मुझे अपने हर मैच की पारी को संवारने में मदद मिलती है."  दक्षिण अफ्रीका के लिए मिलर ने अब तक कुल 105 वनडे मैचों में 2503 रन बनाए हैं, जिसमें चार शतक और 10 अर्धशतक शामिल है. इसके अलावा, उन्होंने 60 टी-20 मैचों में 1070 रन बनाए हैं। इसमें एक शतक और एक अर्धशतक शामिल हैं.

साल 2016 में उन्हें पंजाब टीम का कप्तान चुना गया था. हालांकि, कुछ समय बाद उनके स्थान पर मुरली विजय को कप्तानी सौंपी गई. इस बार टीम की कमान रविचंद्रन अश्विन के हाथों में है। उनकी कप्तानी में पंजाब ने तीन मैच तीन मैच खेले हैं.

इस संस्करण में अश्विन की कप्तानी के बारे में मिलर ने कहा, "वह अच्छा काम कर रहे हैं. वह एक परफेक्शनिस्ट हैं. अपना सर्वश्रेष्ठ देने की कोशिश कर रहे हैं." दक्षिण अफ्रीका के 28 वर्षीय खिलाड़ी ने कहा, "खिलाड़ियों के संयोजन के बारे में भी उन्हें अच्छी जानकारी है. वह खेल के बारे में काफी सोचते हैं और उन्हें काफी अनुभव भी है. सबसे महत्वपूर्ण बात यह है कि घरेलू परिस्थितियों में खेलने के कारण उन्हें कोई परेशानी नहीं हो रही है."

मिलर ने 2012 में रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु के खिलाफ पंजाब के साथ आईपीएल में पदार्पण किया था. साल 2013 में उन्होंने पंजाब के लिए सबसे अधिक रन बनाने वाले खिलाड़ी का खिताब भी हासिल किया था. उन्होंने कुल 418 रन बनाए थे. इसी सफलता के कारण उन्होंने चैम्पियंस ट्रॉफी के लिए दक्षिण अफ्रीका टीम में स्थान हासिल किया था.

चेन्नई सुपर किंग्स और राजस्थान रॉयल्स ने दो साल बाद आईपीएल में वापसी की है. ऐसे में पंजाब अपना पहला आईपीएल खिताब जीतने में कामयाब हो पाएगी? इस पर मिलर ने कहा, "निश्चित तौर पर हम अपना पहला खिताब जीतने में सक्षम रहेंगे. इस बार अगर आप टीम की ओर देखें, तो न केवल अंतिम एकादश में बल्कि पूरी टीम ही काफी अच्छी और संतुलित है." 

बकौल मिलर, "हमें शुरुआत काफी अच्छी मिली है. इससे हमें, जो आत्मविश्वास मिल रहा है वह प्लेऑफ हमारे बहुत काम आएगा। क्रिस गेल अच्छा प्रदर्शन कर रहे हैं."

First published: 18 April 2018, 18:29 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी