Home » आईपीएल » IPL 2018,KKR vs CSK: Kolkata knight Riders Captain Dinesh Karthik wins the toss and elects to bowl first against Chennai super kings
 

IPL 2018,KKR vs CSK: केकेआर का टॉस जीतकर गेंदबाजी का फैसला, चेन्नई के सामने है ये बड़ी चुनौती

कैच ब्यूरो | Updated on: 3 May 2018, 19:43 IST
(IPL twitter)

IPL 2018 के 33वें मैच में आज चेन्नई सुपर किंग्स का सामना कोलकाता नाइट राइडर्स से हो रहा है. कोलकाता ने टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी का फैसला किया है. चेन्नई सुपर किंग्स को बल्लेबाजी का न्योता मिला है. 

दोनों टीमों ने अपने पिछले मुकाबलों में जीत दर्ज की है. जिससे दोनों टीमों के खिलाड़ियों का आत्मविश्वास काफी मजबूत होगा. वहीं दोनों टीमों की कोशिश अपनी जीत की लय को बरकरार रखने की होगी. केकेआर की टीम अपने घरेलू मैदान पर खेल रही है, जिसका फायदा उसको मिल सकता है. लेकिन चेन्नई सुपर किंग्स को हराना उसके लिए आसान नहीं होगा. 

 

चेन्नई की टीम 12 अंको के साथ अंक तालिका में पहले पायदान पर है. उसने 8 मैच खेले हैं जिसमे से केवल में दो में हार का सामना किया है. वहीं केकेआर 8 मैचों में से 4 जीत और 4 हार के साथ अंक तालिका में चौथे पायदान पर है. हालांकि दिनेश कार्तिक की कोशिश जीत हासिल कर तालिका में अपनी स्थिति को मजबूत करने की होगी. ऐसे में दोनों टीमों के बीच कांटे की टक्कर देखनो को मिल सकती है.

चेन्नई सुपर किंग्स की बात करें तो टीम ने जिस तरह का प्रदर्शन किया है, उससे बाकी टीमों के लिए वह अभी तक की सबसे बड़ी बाधा साबित हुई है. महेंद्र सिंह धोनी की कप्तानी वाली चेन्नई ने इस सीजन में कई रोमांचक मैचों में शानदार जीत दर्ज की है और उसके लिए सबसे अच्छी बात यह है कि कप्तान धोनी बल्ले से अपने पुराने रंग में आ गए हैं.उन्होंने 71.50 की औसत से कुल 286 रन बनाए हैं. धोनी के अलावा मौजूदा विजेता मुंबई इंडियंस से चेन्नई में आए अंबाती रायडू का बल्ला भी जमकर बोल रहा है.उन्होंने अभी तक कुल 370 रन बनाए हैं. चेन्नई ने उन्हें शुरुआत में सलामी बल्लेबाज के तौर पर इस्तेमाल किया था, लेकिन फाफ डु प्लेसिस को शामिल करने के बाद वह मध्यक्रम में भी खेल रहे हैं और यहां भी उनका बल्ला शांत नहीं है.

शेन वाटसन पर सलामी बल्लेबाजी की जिम्मेदारी है जिसे उन्होंने बखूबी निभाया है. उनकी और डु प्लेसिस की सलामी जोड़ी किसी भी विपक्षी टीम को अच्छी शुरुआत से वंचित रख सकती है.आईपीएल इतिहास के सबसे सफल बल्लेबाज सुरेश रैना हालांकि अपने प्रदर्शन में निरंतरता नहीं रख पाए हैं. निचले क्रम में चेन्नई के पास ड्वायन ब्रावो जैसा बल्लेबाज भी हैं जो तेजी से रन बटोरने और बड़े शॉट लगाने में माहिर हैं.बल्लेबाजी के अलावा चेन्नई की गेंदबाजी भी शानदार है जिसमें ब्रावो की भी अहम भूमिका रही है.

वहीं, कोलकाता ने अपने पिछले मैच में रॉयल चैलेंजर्स बेंगलोर को मात दी थी.उस जीत से निश्चित ही टीम के आत्मविश्वास को बल मिला होगा. टीम की बल्लेबाजी मजबूत है.टीम को अच्छी शुरुआत देने की जिम्मेदारी क्रिस लिन पर रहेगी. लिन को रोकना धोनी के लिए भी एक बड़ी चुनौती रहेगी. अगर लिन के साथ सुनील नरेन पारी की शुरूआत करने आते हैं तो यह जोड़ी कुछ भी करने में समर्थ है.

इनके अलावा कप्तान दिनेश कार्तिक और उप-कप्तान रोबिन उथप्पा भी अच्छी फॉर्म में हैं. टीम की ताकत उसकी स्पिन तिकड़ी है जिसमें कुलदीप यादव, पीयूष चावला और नरेन हैं.अपने घर में यह तीनों बेहद खतरनाक साबित होते हैं. काफी हद तक कोलकाता की जीत का दारोमदार इन तीनों पर ही रहेगा.

तेज गेंदबाजों में उसके पास मिशेल जॉनसन, शिवम मावी, टॉम कुरैन हैं, दोनों टीमों के बीच की बात की जाए तो चेन्नई के खिलाफ कोलकाता का रिकार्ड अच्छा नहीं रहा है. दोनों के बीच खेले गए 19 मैचों में से 12 में चेन्नई को जीत मिली है.

दोनों टीमें इस प्रकार हैं-

कोलकाता नाइट राइडर्स: दिनेश कार्तिक (कप्तान/विकेटकीपर), सुनील नरेन, आंद्रे रसेल, क्रिस लिन, रॉबिन उथप्पा, कुलदीप यादव, पीयूष चावला, शिवम मावी, मिशेल जॉनसन, शुभमान गिल, रिंकू सिंह.

चेन्नई सुपर किंग्स: महेंद्र सिंह धोनी (कप्तान/विकेटकीपर), रवींद्र जडेजा, सुरेश रैना, ड्वेन ब्रावो, शेन वॉटसन, अंबति रायडू, हरभजन सिंह, फाफ डु प्लेसिस, लुंगी नगीदी, के.एम. आसिफ, कर्ण शर्मा.

First published: 3 May 2018, 19:39 IST
 
अगली कहानी