Home » आईपीएल » IPL 2019 : Rift In Kolkata Knight Rider, Dinesh Kartik slammed KKR players
 

IPL 2019 : KKR में हुई बगावत, दिनेश कार्तिक ने टीम के खिलाड़ियों पर लगाया बड़ा आरोप

कैच ब्यूरो | Updated on: 4 May 2019, 10:29 IST

कोलकाता नाइट राइडर्स के लिए आईपीएल का यह सीजन अभी तक उतार चढ़ाव भरा रहा है. शुक्रवार को हुए मुकाबले में कोलकाता ने पंजाब को 7 विकेट से हराकर प्लेऑफ में पहुंचने की अपनी उम्मीदों को जिंदा रखा है. लेकिन कोलकाता के कप्तान इस मैच में अपनी टीम के खिलाड़ियो के प्रदर्शन से खुश नजर नहीं आए और उन्हें स्ट्रेजिक टाइम आउट में टीम के खिलाड़ियों को लताड़ लगाते हुए देखा गया.

कोलकाता नाइट राइडर्स के कप्तान दिनेश कार्तिक ने इस बात का इशारा किया कि टीम में उनके खिलाफ बवागती सुर उठ रहे है. पोस्ट मैच इंटरव्यू में कार्तिक ने कहा कि, मुझे पता है टीम के  खिलाड़ी और स्टाफ मेरे पीठ पीछे मेरी चुगली कर रहे है.

कोलकाता के कप्तान टीम के खिलाड़ियों के प्रदर्शन से खुश नहीं हैं पंजाब के खिलाफ मैच में यह जगजाहिर हो गया. पंजाब के खिलाफ जब कोलकाता ने गेंदबाजी का  स्ट्रेजिक टाइम आउट लिया तो इस दौरान कार्तिक टीम के खिलाड़ियों पर चिल्ला रहे थे. इस दौरान टीम के बाकी खिलाड़ी उनकी बात सुन रहे थे.

वहीं इस घटना से पहले वेस्ट इंडिज के गेंदबाज सुनिल नरेन को कार्तिक के फैसले से असहमती दिखाते हुए देखा गया. कार्तिक ने नरेन कोे ओवर फेंकने नहीं दिया जबकि वो इस दौरान अच्छी बालिंग कर रहे थे. मौदान पर खड़े उथप्पा ने भी नरेन के साथ सहमति दिखाई लेकिन कार्तिक ने गेंद नरेन को नहीं सौंपी.

इससे पहेल मुंबई के खिलाफ मैच में एक कैच लेने के दौरान उथप्पा और कार्तिक कैच लेने के दौरान उथ्पपा से टकरा गए थे, जिस पर उथप्पा काफी नाराज हुए थे. वहीं इस सीजन में धमाकेदार बल्लेबाजी करने वाले रसेल ने भी कोलकाता को मिल रही लगतार हार पर सवाल उठाते हुए कहा था कि, टीम को गलत फैसलों के कारण हार मिल रही थी.

बात अगर कल के मैच की करे तो पंजाब ने पहले बल्लेबाजी करते हुए कोलकाता को 183 रनों का लक्ष्य दिया था जिसके जवाब में कोलकाता ने 18वें ओवर में 7 विकेट रहते ही इसे हासिल कर लिया.

कोलकाता को प्लेऑफ में पहुंचने के लिए अपना आखिरी मुकाबला बड़े अंतर से जीतना बेहद जरूरी है. वहीं अहम मुकाबले से पहले टीम में कप्तान को लेकर चल रही बगावत टीम मैनेजमेंट के लिए परेशानी का सबब बना हुआ है, क्योंकि मैंनेजमैंट ने हार का छक्का लगाने के बाद भी कार्तिक पर भरोसा जताया था और उन्हें कप्तान के पद से नहीं हटाया था.

First published: 4 May 2019, 10:29 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी