Home » आईपीएल » IPL 2020: All Season Stats Team Last on Point Table
 

IPL 2020: सभी सीजन में पाइंट टेबल पर आखिरी पायदान पर रहने वाली टीमों पर एक नजर

कैच ब्यूरो | Updated on: 14 September 2020, 22:46 IST

IPL 2020 की शुरूआत 19 सितंबर से होने वाली है. कोरोना वायरस महामारी के कारण इस साल पूरे टूर्नामेंट का आयोजन यूएई में किया जा रहा है. इस सीजन का पहला मुकाबला डिफेंडिंग चैंपियन मुंबई इंडियंस और चेन्नई सुपर किंग्स के बीच खेला जाना है. ऐसे में आईपीएल के 13वें संस्करण में कौन सी टीम पाइंट टेबल पर पहले स्थान पर रह सकती है और कौन आखिरी पायदान पर रहेगी, इसको लेकर दिग्गजों की राय अलग-अलग है. क्रिकेट के दिग्गज सभी टीमों का विश्लेषण करके अपना आकंलन दे रहे हैं. ऐसे में हम आपको सभी सीजन में पाइंट टेबल पर आखिरी पायदान पर रहने वाली टीमों के बारे में बता रहे हैं.

साल 2008 में आईपीएल का पहला सीजन खेला गया था और राजस्थान रॉयल्स ने यह सीजन अपने नाम किया था. वहीं दिल्ली डेयरडेविल्स इस सीजन में आखिरी पायदान पर रही थी. दिल्ली ने कुल 14 मुकाबले खेले थे जिसमें उसे मात्र दो में ही जीत मिली थी, जबकि 12 में उसे हार का सामना करना पड़ा था. टीम 4 अंको के साथ आखिरी पायदान पर थी.


साल 2009 में कोलकाता नाइट राइडर्स पाइंट टेबल में आखिरी पायदान पर थी. टीम ने कुल 14 खेले मुकाबलों में से मात्र तीन में दर्ज की थी जबकि 10 में उसे हार का सामना करना पड़ा था और एक मुकाबला टाई हुआ था. टीम 7 अंको के साथ आखिरी पायदान पर थी.

साल 2010 में किंग्स इलेवन पंजाब अंक तालिका में आखिरी पायदान पर थी. पंजाब पूरे टूर्मामेंट में 4 मैचों में जीत दर्ज करने में सफल हुई थी, जबकि 10 में उसे हार का सामना करना पड़ा था. पंजाब 8 अंकों के साथ आखिरी पायदान पर थी.

साल 2011 में दिल्ली डेयरडेविल्स आखिरी पायदान पर थी. दिल्ली पूरे सीजन में 4 मैच जीतने में सफल हुई थी जबकि 9 में उसे हार का सामना करना पड़ा था. वहीं एक मैच टाई हुआ था. दिल्ली के अलावा पुणे वॉरीयर्स इंडिया के भी 9 अंक ही थे लेकिन नेट रन रेट के कारण दिल्ली आखिरी पायदान पर थी.

साल 2012 में पुणे वॉरीयर्स इंडिया अंक तालिका में आखिरी पायदान पर रही. टीम ने पूरे सीजन में कुल 16 मैच खेले थे, जिसमें उसे 12 में हार का सामना करना पड़ा था जबकि 4 में उसे जीत मिली थी. टीम 8 अंको के साथ आखिरी पायदान पर रही.

साल 2013 में दिल्ली डेयरडेविल्स आखिरी पायदान पर रही थी. दिल्ली ने पूरे सीजन में कुल 16 मैच खेले थे, जिसमें से मात्र 3 में उसे जीत मिली जबकि 13 में उसे हार का सामना करना पड़ा था. दिल्ली 6 अंको के साथ आखिरी पायदान पर थी.

साल 2014 में भी दिल्ली डेयरडेविल्स आखिरी पायदान पर थी. दिल्ली डेयरडेविल्स इस सीजन में 2 मैच जीत पाई थी जबकि 12 में उसे हार का सामना करना पड़ा था और वो 4 अंको के साथ आखिरी पायदान पर थी.

साल 2015 में किंग्स इलेवन पंजाब पाइंट टेबल में आखिरी पायदान पर रही थी. पंजाब साल 2015 में 3 मैच जीतने में सफल हुई थी और 11 में उसे हार का सामना करना पड़ा था. पंजाब 6 अंको के साथ आखिरी पायदान पर रही.

साल 2016 में भी किंग्स इलेवन पंजाब ही पाइंट टेबल में आखिरी पायदान पर थी. किंग्स इलेवन पंजाब ने 4 में जीत दर्ज की थी जबकि 10 में उसे हार का सामना करना पड़ा था और 8 अंको के साथ टीम आखिरी स्थान पर रही थी.

साल 2017 में पाइंट टेबल पर आखिरी पायदान पर विराट कोहली की रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर रही. आरसीबी सीजन में 3 मैच जीतने में सफल हुई थी जबकि 10 में उसे हार का सामना करना पड़ा था. वहीं एक मैच रद्द हुआ था और टीम 7 अंको के साथ आखिरी स्थान पर थी.

साल 2018 में एक बार फिर दिल्ली डेयरडेविल्स आखिरी पायदान पर रही थी. दिल्ली ने इस सीजन में कुल 5 मैचों में जीत दर्ज की थी जबकि 9 में उसे हार का सामना करना पड़ा था. टीम 10 अंको के साथ आखिरी स्थान पर रही.

साल 2019 में रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर अंक तालिका में आखिरी पायदान पर रही. टीम सीजन में 5 मैच जीतने में सफल हुई थी जबकि 8 में उसे हार का सामना करना पड़ा और एक मुकाबला रद्द हुआ था. टीम 11 अंको के साथ आखिरी पायदान पर रही.

मोहम्मद शमी की पत्नी को जान का खतरा, कोलकाता हाईकोर्ट में से की सुरक्षा मुहैया कराने की मांग

IPL 2020: एबी डिविलियर्स ने सात बार किया है ये बड़ा कारनामा, कोई दूसरा खिलाड़ी नहीं कर पाया है ऐसा

First published: 14 September 2020, 22:14 IST
 
अगली कहानी