Home » आईपीएल » IPL 2021: BCCI not looking at back-up venues for IPL 2021, says board treasurer Arun Dhumal
 

IPL 2021: आखिर कहां होगा इस साल आईपीएल का आयोजन, बीसीसीआई की तरफ से आया ये जवाब

कैच ब्यूरो | Updated on: 30 January 2021, 22:43 IST

भारत में कोरोना वायरस महामारी का असर धीरे-धीरे कम हो रहा है और बीसीसीआई को लगता है कि ऐसी स्थिति में भारत में आईपीएल का आयोजन किया जा सकता है और टूर्नामेंट के आयोजन के लिए किसी विदेशी आयोजन स्थल की तरफ देखने की जरूरत नहीं है.

न्यूज एजेंसी पीटीआई की रिपोर्ट के अनुसार, आईपीएल गवर्निंग काउंसिल के सदस्य और बीसीसीआई के कोषाध्यक्ष अरूण सिंह धूमल ने इस बात के संकेत दिए हैं. अरूण सिंह धूमल ने बताया कि बोर्ड को भरोसा है कि वह पिछले संस्करण के विपरीत इस साल टूर्नामेंट का आयोजन भारत में ही करवा सकता है. बता दें, कोरोना वायरस महामारी के कारण बीते साल आईपीएल का आयोजन यूएई में हुआ था.


अरूण सिंह धूमल ने कहा,"हम भारत में आईपीएल कराने पर काम कर रहे हैं. हमें उम्मीद है कि यह संभव होगा. इस समय बैकअप के बारे में सोच ही नहीं रहे. हम सभी भारत में ही इसका आयोजन चाहते हैं." धूमल आगे कहा,"इस समय भारत यूएई से अधिक सुरक्षित है. उम्मीद है कि हालात स्थिर रहेंगे और सुधरते जाएंगे."

यूएई में कोरोना वायरस से संक्रमितों की संख्या में तेजी देखी गई है, जबकि भारत में रोजाना कोरोना के मामले कम हो रहे हैं. आईपीएल का आयोजन सितंबर से अक्टूबर के बीच हुआ था. उस दौरान यूएई में एक सप्ताह में औसत 770 कोरोना के मामले सामने आ रहे थे. जबकि भारत में उस दौरान 90 हजार मामले सामने आ रहे थे. वहीं अब भारत में एक सप्ताह में 15 हजार मामले सामने आ रहे हैं, जबकि यूएई में यह आंकड़ां बढ़कर 3743 तक पहुंच गया है. भारत जनसंख्या और आकार में यूएई से काफी बड़ा है, ऐसे में यह आंकड़ां काफी बड़ा है.

बता दें, सैयद मुश्ताक अली टूर्नामेंट से भारत में घरेलू क्रिकेट की वापसी हुई है. इस दौरान खिलाड़ियों को बॉयो बबल में रहना पड़ा रहा है, जो खिलाड़ियों के साथ साथ आयोजनकर्ताओं के लिए भी मुश्किल काम है. ऐसे में बोर्ड खिलाड़ियों को कोरोना का टीका लगवाने पर विचार कर रहा है. धूमल ने इस बारे में कहा,"हम खिलाड़ियों के टीकाकरण की दिशा में काम कर रहे हैं. सरकारी निर्देशों के अनुसार मोर्चे पर काम कर रहे लोगों और वरिष्ठ नागरिकों को पहले टीके लगेंगे. हम सरकार के संपर्क में हैं ताकि खिलाड़ियों को टीके लग सकें."

बीसीसीआई ने लिया बड़ा फैसला, 87 साल में पहली बार भारतीय क्रिकेट में होगा ऐसा

First published: 30 January 2021, 22:43 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी