Home » आईपीएल » KKR Captain Dinesh Karthik raised questions on DLS method for revised target vs Kings XI Punjab ipl 2018
 

केकेआर को मिली IPL की तीसरी हार तो कार्तिक ने डकवर्थ लुईस नियम पर निकाली भड़ास

कैच ब्यूरो | Updated on: 22 April 2018, 16:09 IST

आईपीएल के 11वें सीजन में अपने नए कप्तान के साथ शानदार शुरुआत करने वाली कोलकाता नाइट राइडर्स की टीम एक औसत टीम की तरह नजर आ रही है. दरअसल, शनिवार को केकेआर को पंजाब हाथों हार का सामना करना पड़ा है. इसके बाद कप्तान दिनेश कार्तिक का गुस्सा डकवर्थ लुइस नियम पर फूट पड़ा.

बता दें कि इसी नियम के चलते पंजाब को 9 विकेट से जीत मिली थी. इसके बाद दिनेश कार्तिक ने इस नियम को बदलने की मांग कर डाली. गौरतलब है कि इससे पहले लगातार दो मैच जीत चुकी कोलकाता की टीम शानदार प्रदर्शन कर रही थी. यहां तक कि पंजाब के खिलाफ भी उसने अच्छी बल्लेबाजी की और पहले खेलते हुए 191 रन बना दिए.

 

हालांकि बाद में किंग्स इलेवन पंजाब की ओर से ओपनिंग करने आए क्रिस गेल और केएल राहुल ने कोलकाता से मिले इस स्कोर को छोटा सा साबित कर दिया. इस मुकाबले में क्रिस गेल ने नाबाद 62 रन की विस्फोटक पारी खेली जबकि लोकेश राहुल ने ताबड़तोड़ 60 रन बना डाले.

कोलकाता के ईडन गार्डन्स मैदान पर शनिवार को खेला गया आईपीएल का ये मुकाबला बारिश की भेंट चढ़ गया. बारिश से प्रभावित मैच होने के कारण कोलकाता को डकवर्थ लुईस नियम के तहत नौ विकेट से हार का सामना करना पड़ा. ेकेकेआर ने पहले बल्लेबाजी करते हुए सात विकेट पर 191 रन बनाए लेकिन जब पंजाब 192 रनों के लक्ष्य का पीछा करने उतरी तो उसने 8.2 ओवर में बिना किसी नुकसान के 96 रन बना लिए थे तभी मैच में बारिश आ गई.

 

बारिश खत्म होने के बाद खेल जब दोबारा शुरु हुआ तो मैच 13 ओवरों का कर दिया गया. इस कारण पंजाब के लिए डकवर्थ लुईस नियम लागू हो गया और टीम को 125 रन का लक्ष्य मिला. चूंकि पंजाब ने 8.2 ओवर में 96 रन बना लिए थे इस हिसाब से 28 गेंदों में पंजाब को जीत के लिए 29 रन बनाने थे, जिसे उसने 11 गेंद शेष रहते एक विकेट के नुकसान पर बना लिए.

ये भी पढ़ेंः डिविलियर्स ने लगाया IPL 2018 का सबसे लंबा छक्का, स्टेडियम की छत से जा टकराई गेंद

इस मैच के बाद केकेआर के कप्तान दिनेश कार्तिक ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में डकवर्थ लुईस नियम की आलोचना करते हुए कहा, “आईसीसी को बारिश प्रभावित मैचों के लिए जयदेवन मेथड (वीजेडी मेथड) का इस्तेमाल करना चाहिए. डकवर्थ लुईस मेथड में कई खामियां हैं. वीजेडी मेथड उससे सभी मामलों में बेहतर है.”

First published: 22 April 2018, 16:09 IST
 
अगली कहानी