Home » आईपीएल » KKRvKXIP: IPL 2019 most costly player Varun Chakravarthy give 25 runs on his debut over
 

Video: IPL 2019 के सबसे महंगे प्लेयर की पहले ही ओवर में हो गई हालत खराब, 3 छक्के समेत लुटा दिए..

कैच ब्यूरो | Updated on: 28 March 2019, 10:10 IST

IPL 2019 में ईडेन गार्डन्स में खेले गए मैच में कोलकाता नाइट राइडर्स ने किंग्स इलेवन पंजाब को 28 रन से मात दे दी. इस मैच में एक प्लेयर पर सबका निगाहें टिकी हुई थीं. यह प्लेयर था किंग्स इलेवन पंजाब का गेंदबाज वरुण चक्रवर्ती. IPL 2019 का सबसे महंगा खिलाड़ी.

वरुण चक्रवर्ती के डेब्यू का पहला ओवर बेहद ही निराशाजनक रहा. पहले ओवर में ही वरुण की हालत खराब हो गई. दरअसल, किंग्स इलेवन पंजाब के कप्तान आर. अश्विन ने मैच में दूसरे छोर से इस नए गेंदबाज से आक्रमण की शुरुआत कराई. इसके बाद जो हुआ उसे यह लेग स्पिनर कभी भूल नहीं पाएगा.

 

उस ओवर में वरुण चक्रवर्ती ने 25 रन लुटा दिए. कोलकाता की तरफ से पारी की शुरुआत करने आए सुनील नरेन ने वरुण के ओवर की पहली पांच गेंदों पर ही 24 रन ठोक डाले. इसमें 3 धुआंधार छक्के भी शामिल थे. अपने छोटे से क्रिकेट करियर में वरुण कभी इतनी बेरहमी से नहीं पिटे.

तमिलनाडु प्रीमियर लीग (TNPL) से चमकने वाले इस गेंदबाज का वहां भी ये हश्र नहीं हुआ था. TNPL में वरुण ने सबसे महंगी गेंदबाजी 4 ओवर में 28 रन देकर की है. लेकिन आईपीएल में आते ही उन्हें एक ओवर में 25 रन देने पड़े.

हालांकि जब उन्हें दोबारा सातवें ओवर में आक्रमण पर लगाया गया तो जरूर उन्होंने कुछ किफायती गेंदबाजी की. उस ओवर में 2 चौके समेत उन्होंने 9 रन दिए. इसके बाद उन्हें 15वें ओवर में मौका मिला. 15वें ओवर में वरुण ने जोरदार बल्लेबाजी कर रहे नीतीश राणा (63 रन, 34 गेंद, 7 छक्के, 2 चौके) को आउट कर अपनी पहली सफलता हासिल की.

इस ओवर में वरुण ने मात्र एक रन (0 0 W 0 0 1) खर्च किए और आईपीएल का अपना 'ड्रीम' विकेट निकाला. मैच में उनका गेंदबाजी विश्लेषण रहा तीन ओवर में 35 रन और एक विकेट. इस मैच में कोलकाता ने पहले बल्लेबाजी करते हुए 20 ओवर में 4 विकेट गंवा कर 218 रन बनाए. इसके जवाब में किंग्स इलेवन पंजाब की टीम 20 ओवर में 4 विकेट गंवा कर 190 रन ही बना सकी.

बता दें कि आईपीएल 2019 की नीलामी में तमिलनाडु के मिस्ट्री स्पिनर वरुण चक्रवर्ती की बोली ने सबको हैरान कर दिया था. वह अपनी बेस प्राइस से 42 गुना ज्यादा दाम में बिके थे. वरुण ने तमिलनाडु प्रीमियर लीग में मदुराई पैंथर्स की तरफ से खुद को एक सीक्रेट हथियार तौर पर साबित किया था.

उन्होंने विजय हजारे ट्रॉफी में 22 विकेट अपने नाम किए थे. आईपीएल में जैसे ही उनके नाम की बोली लगनी शुरू हुई वैसे ही पैसों की उन पर बौछार होने लगी थी. 20 लाख से उनकी शुरू हुई बोली आखिर में जाकर आठ करोड़ 40 लाख पर खत्म हुई थी. उन्हें किंग्स इलेवन पंजाब ने अपनी टीम में लिया था.

 

वरुण ने 13 साल की उम्र में अपने करियर की शुरुआत की थी. लेकिन बीच में ही क्रिकेट छोड़कर वह चेन्नई के एसआरएम युनिवर्सिटी से आर्किटेक्ट की पढ़ाई करने लगे. पढ़ाई पूरी करने के बाद  उन्होंने दो साल तक एक आर्किटेक्ट फर्म में काम भी किया. लेकिन क्रिकेट से उनका प्यार खत्म नहीं हुआ.

इसके बाद वह एक बार फिर वापस क्रिकेट में लौटे. हालांकि पहले वह विकेटकीपर-बैट्समैन के रूप में खेलते थे लेकिन इस बार उन्होंने मीडियम-पेसर के रूप में अपने करियर को अंजाम देना शुरू किया. लेकिन खुदा को कुछ और मंजूर था और वह अपने घुटने में चोट खा बैठे.

इसके बाद जब उन्होंने दोबारा क्रिकेट में वापसी की तो इस बार मीडियम-पेसर नहीं बल्कि स्पिनर बनकर लौटे. वरुण बताते हैं कि उन्होंने शुरुआत में टेनिस बॉल से कुछ प्रयोग करने शुरू किए और प्रक्रिया लेदर बॉल तक चली. वरुण ने बताया कि स्पिनर के रूप में लौटने के बाद उनकी अंगुलियों में जैसे जादू आ गया हो.

First published: 28 March 2019, 10:10 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी