Home » आईपीएल » SRh vs mi ipl 2018 why rashid khan became man of match after taking only one wicket not Shikhar Dhawan and Mayank Markande
 

सिर्फ एक विकेट लेकर ये प्लेयर बना 'मैन ऑफ द मैच', देखते रह गए धवन और मयंक

कैच ब्यूरो | Updated on: 13 April 2018, 10:52 IST

किसी भी मैच में 'मैन ऑफ द मैच’ और किसी भी सिरीज में ‘मैन ऑफ द सिरीज’ बनने के लिए खिलाड़ियों को बहुत मेहनत करनी पड़ती है. खिलाड़ी इन खिताबों को पाने के लिए खूब रन बनाते हैं, फील्ड पर अच्छा प्रदर्शन करते हैं या फिर विकेट चटकाते हैं. लेकिन आईपीएल 11 के एक मैच में एक गेंदबाज सिर्फ एक विकेट लेकर ही 'मैन ऑफ द मैच' दे दिया गया.

सिर्फ एक विकेट चटकाने पर किसी खिलाड़ी को मैन ऑफ द मैच दे दिया जाए तो सवाल उठ सकते हैं, क्योंकि उसी टीम के बल्लेबाज ने शानदार पारी खेली और उसकी प्रतिद्वंदी टीम के गेंदबाज ने दमदार गेंदबाजी करते हुए कम रन देकर चार विकेट चटकाए हों. इसके बाद सवाल और उठ खड़े होते हैं.

दरअसल, ये सब देखा गया सनराइजर्स हैदराबाद और मुंबई इंडियंस के बीच खेले गए आईपीएल के सातवें मुकाबले में. इस मुकाबले में सनराइजर्स हैदराबाद ने एक विकेट से मुंबई इंडियंस को हरा दिया. इस मैच का नायक कायदे से शिखर धवन या फिर मुंबई इंडियंस के गेदबाज मयंक मार्कंडेय को क्योंकि धवन ने 45 रन की जुझारू पारी खेली थी जबकि मयंक ने चार विकेट झटके.

इस सबके बीच अफगानिस्तान के प्लेयर और सनराइजर्स हैदराबाद के स्पिनर राशिद खान को एक विकेट लेने पर ही मैन ऑफ द मैच दे दिया गया. उनको मैन ऑफ द मैच क्यों दिया गया इसके पीछे भी एक बड़ी वजह है. हैदराबाद के राजीव गांधी स्टेडियम में मुंबई इंडियंस ने पहले बल्लेबाजी करते हुए 20 ओवरों में आठ विकेट के नुकसान पर 147 रन बनाए, जिसे हैदराबाद ने नौ विकेट के नुकसान पर 151 रन बनाकर हासिल कर लिया. 

इस मैच को सनराइजर्स हैदराबाद ने एक विकेट से अपने नाम कर लिया. इस मैच के लिए मैन ऑफ द मैच के पुरस्कार से सनराइजर्स हैदराबाद के राशिद खान को नवाजा गया. इस बीच रोचक बात रही कि राशिद को सिर्फ एक विकेट लेने के एवज में ये अवॉर्ड मिला. इसके अलावा वह आईपीएल में एक कारनामा करने पहले विदेशी खिलाड़ी भी बन गए.

ये भी पढ़ेंः IPL 2018: रोमांचक मुकाबले में हैदराबाद ने मुंबई इंडियन्स को हराया, धवन बने जीत के हीरो

बता दें कि राशिद खान ने इस मुकाबले में अपने कोटे के चार ओवर फेंके. इन चार ओवरों में उन्होंने कुल 13 रन खर्च किए, जबकि 18 डॉट गेंदें डालीं. इस दौरान उन्होंने एक गेंद को वाइड भी फेंका. इस तरह से मुंबई इंडियंस की टीम का कोई भी बल्लेबाज उनकी इन गेंदों पर रन नहीं बना सका. यही कारण था कि उन्हें मैन ऑफ द मैच दिया गया.

First published: 13 April 2018, 10:52 IST
 
अगली कहानी