Home » आईपीएल » World Cup 2019 : Bad News, Fans Will Miss Out ICC world Cup 2019 Radio Commentary
 

World Cup 2019 : फैंस के लिए बुरी खबर, इस बार नहीं सुन पाएंगे रेडियो पर मैच की कमेंट्री

कैच ब्यूरो | Updated on: 2 May 2019, 10:14 IST

भारत में क्रिकेट को धर्म समझा जाता है. हमारे देश के लोगों में क्रिकेट के प्रति इतनी दीवानगी है जितनी किसी भी खेल के प्रति नहीं है. आपने राह चलते लोगों को उनके मोबाईल पर क्रिकेट की लाइव स्ट्रीमिंग देखते हुए देखा होगा और या फिर मोबाइल पर मैच की कमेंट्री सुनते हुए सुना होगा. भारत जैसे देश में जहां आधी से ज्यादा आबादी के पास मोबाईल फोन है वहां आज भी लोग रोडियों पर मैच की लाइव कमेंट्री सुनते है.

रेडियों पर मैच की लाइव कमेंट्री सुनेन का अपना ही मजा होता है. कॉमेंटेटर मैच का आखों देखा हाल कुछ इस तरह से सुनातें हैं कि श्रोता के आखों के सामने पूरा मैच चलने लगता है. कुछ लोग कॉमेंटेटर के भी दिवाने होतो है. लेकिन रेडियों पर मैच की लाइव कमेंट्री सुनेन वालों के लिए एक बुरी खबर है. वो इस बार विश्व कप के मैच की लाइव कमेंट्री नहीं सुना पाएंगे.

दरअसल, प्रसार भारती ने इस बार इंडिया स्पोर्ट्स फ्लैशेज प्राइवेट लिमिटेड से विश्व कप के मैच की लाइव फीड नहीं ले पाएगी, जिसके कारण रोडियों पर मैच की लाइव कमेंट्री नहीं हो पाएगी.

इस बार आईसीसी क्रिकेट वर्ल्ड कप के प्रसारण का अधिकार इंडिया स्पोर्ट्स फ्लैशेज प्राइवेट लिमिटेड के पास है. इंडिया स्पोर्ट्स फ्लैशेज प्राइवेट लिमिटेड ने बीते दिनों ही दिल्ली हाईकोर्ट में याचिका दायर करके कहा था कि, प्रसार भारती  ऑडियो फीड के अधिकार खरीदने के लिए गलत तरीके से दवाब डाल रहा है.

इंडिया स्पोर्ट्स फ्लैशेज प्राइवेट लिमिटेड ने अपनी दायर याचिका में इस बात का जिक्र किया कि, (प्रसार भारती के साथ अनिवार्य साझाकरण) अधिनियम 2007 के मुताबिक , जब तक  प्रसार भारती के साथ किसी भी खेल की फीड शेयर नहीं की जाती तब तक वो इससे जुड़ी कमेंट्री नहीं कर सकती.

दिल्ली हाई कोर्ट के समक्ष प्रसार भारती ने कहा कि,‘इंडिया स्पोर्ट्स फ्लैशेज प्राइवेट लिमिटेड’ न तो कोई रेडियो चैनल है और न ही इस तरह की सर्विस के लिए इसके पास लाइसेंस है. लेकिन दिल्ली हाई कोर्ट ने अपने फैसले में साफ तौर पर कहा कि, ‘इंडिया स्पोर्ट्स फ्लैशेज प्राइवेट लिमिटेड’ प्रसार भारती के साथ लाइव फीड शेयर करने के लिए बाध्य नहीं है. दिल्ली हाई कोर्ट का यह फैसला उन तमाम क्रिकेट फैंस के लिए बुरी खबर हैं जो रोडियों पर  मैच की लाइव कमेंट्री सुनते है.

First published: 2 May 2019, 10:12 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी