Home » जम्मू-कश्मीर » congrees leader saifuddin soz says i would have had dialogue with burhan if he was alive in jammu kashmir.
 

कांग्रेस नेता बोले- मेरे बस में होता, तो बुरहान को ज़िंदा रखता

कैच ब्यूरो | Updated on: 7 July 2017, 14:51 IST

जम्मू-कश्मीर के कांग्रेस नेता सैफुद्दीन सोज़ ने हिजबुल मुजाहिदीन के आतंकी बुरहान वानी की बरसी से पहले विवादित बयान दिया है. उन्होंने कहा कि अगर वह सत्ता में होते तो आतंकी बुरहान वानी को जिंदा रखते और वह उससे बात करते. 

आतंकी बुरहान वानी की बरसी से ठीक एक दिन पहले सैफुद्दीन सोज ने कहा, "अगर मैं पावर में होता तो बुरहान वानी को मरने नहीं देता. मैं उससे संवाद स्थापित करना चाहता था. मैं उसे समझाने की कोशिश करता कि पाकिस्तान, कश्मीर और भारत के बीच दोस्ती का पुल बनाया जा सकता है और इस काम में वह मददगार साबित हो सकता है, लेकिन वह मर चुका है. हमें कश्मीरियों के दर्द को समझना चाहिए."

बुरहान वानी था कश्मीर का पोस्टर ब्वॉय

बुरहान कश्मीर घाटी में हिजबुल मुजाहिदीन का पोस्टर ब्बॉय था. पिछले साल 8 जुलाई को जम्मू-कश्मीर के अनंतनाग जिले में हुए एनकाउंटर में वह मारा गया था. इसके बाद घाटी में कई प्रदर्शनों का दौर शुरू हो गया और लगातार 53 दिनों तक कर्फ्यू लगा रहा.

इस दौरान पथराव और सुरक्षा बलों से हिंसक झड़प के दौरान 94 लोगों की मौत हुई, जिसमें दो पुलिस वाले भी शामिल थे. यही नहीं अमरनाथ यात्रा को भी रोकना पड़ा था. आठ जुलाई को आतंकी बुरहान की बरसी नजदीक आने के मद्देनजर कश्मीर घाटी में सुरक्षा व्यवस्था बढ़ा दी गई है. आतंकियों के निशाने पर अमरनाथ यात्री हैं.

First published: 7 July 2017, 14:51 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी