Home » जम्मू-कश्मीर » Government strict on separatist ban protest in Srinagar Jammu-Kashmir
 

अलगाववादियों पर सख्त हुई सरकार, बंद और प्रदर्शन पर लगाई रोक

न्यूज एजेंसी | Updated on: 1 May 2018, 11:45 IST

जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में एक नागरिक की मौत के विरोध में अलगाववादियों द्वारा बुलाए गए बंद व विरोध प्रदर्शन को रोकने के लिए मंगलवार को प्रशासन ने श्रीनगर के कई हिस्सों में प्रदर्शन पर प्रतिबंध लगा दिया है. सैयद अली गिलानी, मीरवाइज उमर फारूख और मुहम्मद यासिन मलिक के नेतृत्व वाले अलगाववादी संगठन ज्वाइंट रेसिस्टेंस लीडरशिप (जेआरएल) द्वारा बंद का आह्रान किया गया है.

ये भी पढ़ें-जम्मू-कश्मीर: बारामूला में आतंकियों ने 3 नागरिकों को उतारा मौत के घाट

गौरतलब है कि, सोमवार को शीर्ष हिजबुल कमांडर समीर टाइगर और उसका सहयोगी अकीब जिले के द्रबगाम गांव में चार घंटे तक चली मुठभेड़ में मारे गए. इसी इलाके में पत्थरबाजी कर रही भीड़ की सुरक्षा बलों के साथ झड़प हुई जिसमें शाहिद (14) मारा गया और 15 अन्य नागरिक घायल हो गए. प्रशासन ने रैनावारी, खानयार, नौहट्टा, एम.आर गंज और सफा कदाल में प्रतिबंध लगाए गए हैं. वहीं, मैसूमा और क्रालखुद में आंशिक तौर पर प्रतिबंध लगा है.

जिसके बाद कश्मीर विश्वविद्यालय में मंगलवार के लिए निर्धारित सभी परीक्षाओं को रद्द कर दिया गया है. उत्तरी कश्मीर के बारामूला और जम्मू क्षेत्र के बनिहाल के बीच रेल सेवाओं को रद्द कर दिया गया है. दक्षिण कश्मीर में मोबाइल इंटरनेट सेवाओं को भी बंद कर दिया गया है. श्रीनगर शहर व घाटी के अन्य सभी जिला मुख्यालयों में दुकानें, व्यावसायिक प्रतिष्ठान और सार्वजनिक परिवहन बंद हैं.

ये भी पढ़ें-J&K: पुलवामा में हिजबुल कमांडर समीर टाइगर सहित दो आतंकी ढेर, सेना का मेजर घायल

First published: 1 May 2018, 11:45 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी