Home » जम्मू-कश्मीर » 7 Pakistani rangers and one militant killed in BSF retaliation near Bobiya post near international border
 

जम्मू-कश्मीर: बीएसएफ की जवाबी फायरिंग में 7 पाक रेंजर्स और एक आतंकी ढेर

कैच ब्यूरो | Updated on: 22 October 2016, 9:14 IST
(फाइल फोटो)

अंतरराष्ट्रीय सीमा पर पाकिस्तान की फायरिंग का बीएसएफ ने मुंहतोड़ जवाब दिया है. बीएसएफ के दावे के मुताबिक शुक्रवार को आरएस पुरा सेक्टर की बोबिया पोस्ट के पास जवाबी फायरिंग में सात पाकिस्तानी रेंजर्स मारे गए हैं.

बीएसएफ ने इस दौरान घुसपैठ की कोशिश नाकाम करते हुए एक आतंकवादी को भी ढेर कर दिया है. बीएसएफ का एक जवान गुरुनाम सिंह पाक रेंजर्स की गोलीबारी में घायल हुआ है.  

बीएसएफ की ओर से जारी बयान में कहा गया है, "जम्मू के हीरानगर सेक्टर में सुबह 9 बजकर 35 मिनट पर पाकिस्तानी रेंजर्स के स्नाइपर हमले (दूर से निशाना साधकर फायरिंग) का माकूल जवाब देते हुए बीएसएफ ने आक्रमण किया. लगातार चली फायरिंग में एक आतंकी और सात पाकिस्तानी रेंजर्स मारे गए हैं."

आरएसपुरा सेक्टर में फायरिंग

इंटरनेशनल बॉर्डर पर लगातार पाकिस्तान की ओर से संघर्ष विराम का उल्लंघन हो रहा है. शुक्रवार देर शाम भी पाक रेंजर्स ने आरएसपुरा सेक्टर में छोटे हथियारों से फायरिंग की.

इसके अलावा राजौरी, हीरानगर, सांबा और अखनूर में भी फायरिंग हुई. पाकिस्तान की सीमा में भारत की जवाबी कार्रवाई से भारी नुकसान की खबर है. सीमा से सटे इलाकों में रहने वाले लोगों को घरों के अंदर रहने को कहा गया है. 

'उनकी भाषा में मिला जवाब'

बीएसएफ के जम्मू रेंज के आईजी डीके उपाध्याय का कहना है, "शुरुआत उन्होंने की, जवाब उनको उन्हीं की भाषा में मिल गया. पाकिस्तान दुस्साहस न करे तो बेहतर होगा." 

बीएसएफ के आईजी ने कहा, "उन्होंने हर तरीके के हथियार का इस्तेमाल किया. अगर उन्होंने दोबारा फायरिंग की तो हम उन्हें ऐसा जवाब देंगे जिसे वो याद रखेंगे."

बीएसएफ को मिली खुली छूट

वहीं बीएसएफ का कहना है कि इंटरनेशनल बॉर्डर पर रात 2 बजे के बाद से सीजफायर का कोई उल्लंघन नहीं हुआ है. आरएस पुरा इलाके में फायरिंग में 4 मवेशियों की मौत हुई है.

शुक्रवार को दिनभर फायरिंग के बाद बीएसएफ ने बताया कि आतंकियों को घुसपैठ कराने के लिए पाक रेंजर्स की ओर से फायरिंग की जा रही थी. जवाबी कार्रवाई में एक आतंकी और 7 पाकिस्तानी रेंजर्स मारे गए. वहीं 5 पाकिस्तानी रेंजर्स घायल हुए हैं.

इस बीच जम्मू-कश्मीर के राजौरी में पाक सेना ने शुक्रवार की रात सीजफायर तोड़ा. एलओसी के पास मंजाकोट सेक्टर में पाकिस्तान की ओर से फायरिंग हुई. भारतीय सेना भी माकूल जवाब देने में जुटी है.

बीएसएफ के डीजी ने केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह से शुक्रवार को सीमा पर पाकिस्तानी फायरिंग को लेकर बात की. राजनाथ ने बीएसएफ से पाकिस्तान की हर हरकत का मुंहतोड़ जवाब देने को कहा है.

वहीं अंतरराष्ट्रीय सीमा पर फायरिंग को देखते हुए लोगों को सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाया जा रहा है. सीमा से सटे इलाके के लोगों को शिविरों और बंकरों में ले जाया जा रहा है. इसके लिए बुलेटप्रुफ गाड़ियों का इस्तेमाल किया जा रहा है.

पाक ने दावे को नकारा

पाकिस्तान ने भारत की जवाबी कार्रवाई में सात पाक रेंजर्स के मारे जाने के दावे को नकार दिया है. पाकिस्तानी सेना के प्रवक्ता जनरल आसिम बाजवा ने कहा, "आज भारत-पाकिस्तान की प्रभावी सीमा के शकरगढ़ सेक्टर में भारत ने बिना उकसावे के गोलीबारी की. पाकिस्तानी रेंजरों ने मुंहतोड़ जवाब दिया. पाकिस्तान को कोई नुक़सान नहीं हुआ है."

आसिम बाजवा के मुताबिक भारत का सीमा पर हुई गोलीबारी में किसी भी पाकिस्तानी सैनिक या रेंजर को मारने या घायल करने का दावा पूरी तरह बेबुनियाद है.

First published: 22 October 2016, 9:14 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी