Home » जम्मू-कश्मीर » j&k government announces compensation for burhans brother khalid wanis death
 

जम्मू-कश्मीर सरकार का आतंकी बुरहान के भाई खालिद के लिए मुआवजे का एलान

कैच ब्यूरो | Updated on: 10 February 2017, 1:38 IST
(फाइल फोटो )

जम्मू-कश्मीर सरकार ने घाटी में आतंकी घटनाओं में मारे गए 17 लोगों के परिजनों को मुआवजा देने का एलान किया है. इन लोगों में हिज्बुल मुजाहिदीन के आतंकी बुरहान वानी का भाई खालिद भी शामिल है. औपचारिक आदेश जारी करने से पहले आपत्ति दर्ज कराने के लिए हफ्ते भर का वक्त दिया गया है.

इस साल 8 जुलाई को दक्षिण कश्मीर के कोकेरनाग इलाके में सुरक्षा बलों के साथ मुठभेड़ में बुरहान वानी मारा गया था. इसके बाद से घाटी में प्रदर्शनों का सिलसिला शुरू हो गया जिसमें 86 लोगों की मौत हो गई थी.

पुलवामा के उपायुक्त की ओर से सोमवार को जारी की गई अधिसूचना के मुताबिक आतंकी घटनाओं में मारे गए लोगों के परिजनों के लिए जिला स्तरीय जांच सह परामर्श समिति (डीएलएससीसी) ने मुआवजा राहत को मंजूरी दी है. आतंकी घटनाओं में मारे गए 17 लोगों की सूची में वानी के भाई खालिद मुजफ्फर वानी का नाम भी है जिसकी पिछले साल 13 अप्रैल को त्राल के बुचू वन क्षेत्र में सुरक्षा बलों की ओर से की गई गोलीबारी में मौत हो गई थी.

पुलवामा के उपायुक्त मुनीर उल इस्लाम की अध्यक्षता में डीएनएससीसी की बैठक 24 नवंबर को हुई थी. उपायुक्त ने आपत्तियां मंगवाई हैं. आपत्तियां औपचारिक आदेश जारी होने से सात दिन पहले दर्ज करानी होंगी. नियमानुसार ऐसे मामलों में चार लाख रुपये का मुआवजा दिया जाता है.

सेना ने कहा था खालिद हिज्बुल मुजाहिदीन से जुड़ा था और एक मुठभेड़ में मारा गया था. हालांकि स्थानीय लोगों का कहना है कि आतंकवाद से उसका कोई लेनादेना नहीं था. खालिद (25) इंदिरा गांधी राष्ट्रीय मुक्त विश्वविद्यालय से राजनीति विज्ञान में स्नातकोत्तर कर रहा था.

First published: 14 December 2016, 7:24 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी