Home » जम्मू-कश्मीर » Heavy firing near LoC and international border in J&K, destruction along Pakistan side
 

एलओसी-बॉर्डर पर भारी फायरिंग, कई पाक रेंजर्स जख्मी, पाक इलाके के गांवों में लगी आग

कैच ब्यूरो | Updated on: 28 October 2016, 9:28 IST
(फाइल फोटो)

पाकिस्तान की तरफ से पिछले एक महीने से चल रही गोलाबारी और तेज हो गई है. नियंत्रण रेखा और इंटरनेशनल बॉर्डर के पास पाकिस्तान की तरफ से भारी फायरिंग हुई है. गुरुवार शाम से तंगधार, अखनूर और मेंढर में जबरदस्त फायरिंग हुई है.

भारतीय सेना और बीएसएफ की चौकियों को निशाना बनाकर पाकिस्तानी रेंजर्स मोर्टार हमले कर रहे हैं. खबर है कि भारत की जवाबी कार्रवाई में पाकिस्तान को काफी नुकसान पहुंचा है. कई पाकिस्तानी रेंजर्स जख्मी बताए जा रहे हैं.

पाकिस्तानी रेंजर्स को ले जाने के लिए एंबुलेंस भी लाए गए हैं. जम्मू के पास कठुवा में बीएसफ ने पाकिस्तान की फायरिंग का मुंहतोड़ जवाब दिया. बताया जा रहा है कि पाकिस्तानी सीमा में नारोवाल के शकरगढ़ इलाके में कई गांवों में आग लग गई. जवाबी कार्रवाई में पाकिस्तान के कई टावर भी तबाह हुए हैं.

इस बीच जम्मू-कश्मीर के नौशेरा सेक्टर में पाकिस्तान की तरफ से सुबह पांच बजे से ही भारी गोलाबारी हो रही है. वहीं एलओसी के पास पालनवाला सेक्टर और सुंदरबनी सेक्टर में पाकिस्तान ने बिना किसी उकसावे के सीजफायर का उल्लंघन किया, जिसका भारतीय सेना ने माकूल जवाब दिया है.

डॉन: चार पाक नागरिकों की मौत

पाकिस्तान के अखबार डॉन ने अपनी रिपोर्ट में कहा है कि भारतीय सुरक्षाबलों की फायरिंग में कोटली सेक्टर में एक शख्स की मौत हुई है, जबकि दो बच्चों समेत चार लोग जख्मी हुए हैं.

डॉन के मुताबिक अंतरराष्ट्रीय सीमा पर बीएसएफ की फायरिंग में चपरार सेक्टर में दो ग्रामीणों की मौत हो गई, जबकि आठ लोग घायल हुए हैं.

डॉन के मुताबिक सोमवार से हुई फायरिंग में एक बच्चे समेत चार लोगों की मौत हुई है, जबकि 26 ग्रामीण जख्मी हैं. डॉन ने सेना सूत्रों के हवाले से दावा किया है कि पांच भारतीय सैनिकों की जवाबी कार्रवाई में मौत हुई है, जबकि भीमबेर सेक्टर में चार भारतीय पोस्ट को नुकसान पहुंचा है.

सेना की पोस्ट पर आतंकी हमला

अखनूर में भी सेना के पोस्ट पर आतंकी हुआ है. जिसमें पांच जवान घायल बताए जा रहे हैं. हमले के पीछे पाकिस्तानी सेना का हाथ माना जा रहा है.

इसके अलावा केरी, मेंढर और पुंछ में भी पाकिस्तान की तरफ से गोलाबारी हो रही है. बताया जा रहा है कि पाकिस्तानी सेना के जवान एलओसी के बहुत पास आकर फायरिंग कर रहे हैं. तंगधार में पाकिस्तान की ओर से फायरिंग में एक जवान शहीद हो गया.

इस बीच फायरिंग को देखते हुए सीमा से सटे इलाकों के लोगों को सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाया जा रहा है. लोगों को बंकर और शिविरों में रखा गया है. राजौरी में भी लोगों ने सुरक्षित स्थान पर शरण ली है.

सेना प्रमुख ने पर्रिकर-डोभाल को किया ब्रीफ

इस बीच एलओसी और सीमा पर हो रही फायरिंग के बारे में सेना प्रमुख जनरल दलबीर सिंह सुहाग ने एनएसए अजीत डोभाल और रक्षा मंत्री मनोहर पर्रिकर को ब्रीफ किया है.

तंगधार और अखनूर में हो रही फायरिंग पर केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने बीएसएफ के डीजी से बात की और पाकिस्तान को मुंहतोड़ जवाब देने के निर्देश दिए हैं.

राजनाथ सिंह ने कहा है कि बीएसएफ के जवान पहले फायरिंग नहीं कर रहे हैं, लेकिन अगर पाकिस्तानी इलाके से फायरिंग होती है, तो उसका दोगुनी ताकत से जवाब दिया जा रहा है.

First published: 28 October 2016, 9:28 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी