Home » जम्मू-कश्मीर » J&K: PDP Pulwama district President Abdul Gani Dar shot dead by terrorists
 

जम्मू-कश्मीर: पुलवामा में PDP ज़िलाध्यक्ष अब्दुल गनी डार की गोली मारकर हत्या

कैच ब्यूरो | Updated on: 24 April 2017, 16:18 IST

जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में आतंकियों ने सत्ताधारी पार्टी पीडीपी के जिलाध्यक्ष अब्दुल गनी डार की गोली मारकर हत्या कर दी है. दक्षिण कश्मीर में पिछले दो हफ्तों के दौरान किसी पीडीपी नेता को तीसरी बार आतंकियों ने निशाना बनाया है. 

गोली लगने के बाद घायल पीडीपी नेता अब्दुल गनी को अस्पताल में भर्ती कराया गया, जहां इलाज के दौरान उनकी मौत हो गई. बताया जा रहा है कि डार श्रीनगर में पीडीपी नेताओं से मिलने जा रहे थे. इसी दौरान आतंकियों ने उनके वाहन पर फायरिंग की. 

एक हफ्ते बाद खुले थे स्कूल-कॉलेज

गौरतलब है कि दक्षिणी कश्मीर में एनकाउंटर के दौरान बुरहान वानी की मौत के बाद हालात सामान्य नहीं हो पाए हैं. पुलवामा में पथराव और विरोध प्रदर्शनों के बीच एक हफ्ते बाद स्कूल-कॉलेज खुले थे.

सोमवार को रोहमू गांव में आतंकियों ने अब्दुल गनी डार पर घात लगाकर हमला किया. इससे पहले आतंकियों ने राजपोरा इलाके के कस्बायर में पीडीपी नेताओं को निशाना बनाया था. हमले में 45 साल के पीडीपी कार्यकर्ता बशीर अहमद डार और उनके चचेरे भाई अल्ताफ अहमद डार को गोलियां लगी थीं. दोनों को गंभीर हालत में पुलवामा अस्पताल लाया गया था. जहां बशीर को डॉक्टरों ने मृत घोषित कर दिया था.

घाटी में एक साल से तनाव

जुलाई 2016 में हिजबुल मुजाहिदीन के कमांडर बुरहान वानी को सुरक्षाबलों ने मुठभेड़ के दौरान मार गिराया था. इसी के बाद से कश्मीर घाटी में पथराव और सुरक्षाबलों से झड़प की घटनाओं में अप्रत्याशित इजाफा हुआ.

यहां तक कि श्रीनगर लोकसभा सीट के उपचुनाव में हिंसा के दौरान 8 लोग मारे गए थे. जबकि सिर्फ 7.14 फीसदी मतदान हुआ था. इसके साथ ही तनाव को देखते हुए अनंतनाग लोकसभा सीट पर उपचुनाव टालना पड़ा. 

इस बीच श्रीनगर सीट से चुनाव जीतने वाले नेशनल कॉन्फ्रेंस के नेता और राज्य के पूर्व सीएम फारूक अब्दुल्ला ने बातचीत की अपील की है. फारूक ने कहा कि उपयुक्त माहौल का इंतजार करने की जरूरत नहीं है. शांति के लिए सभी पक्षों से बातचीत की पहल होनी चाहिए, भले ही वो पाकिस्तान क्यों न हो.

First published: 24 April 2017, 16:18 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी