Home » जम्मू-कश्मीर » Jaish-e-Mohammed terrorist killed in explosion, body found at tral in Kashmir
 

कश्मीरः लोगों की मौत का सामान बना रहा था आतंकी, बम बनाने में गलती से खुद उड़ गया

कैच ब्यूरो | Updated on: 16 December 2017, 16:30 IST
(प्रतीकात्मक तस्वीर)

जम्मू-कश्मीर में एक आतंकी का शव मिला है. मृतक आतंकी की पहचान पाकिस्तान के नागरिक के तौर पर हुई है. पाक समर्थित आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद के आतंकी का शव दक्षिण कश्मीर के त्राल इलाके में मिला. इस आतंकी के पास एक पत्र बरामद हुआ. इसमें इसे विदेशी आतंकी बताया गया.

इस पत्र में इस आतंकी के शव के दफनाने की गुजारिश की गई है. पत्र के मुताबिक आतंकी की मौत त्राल ईदगाह में में इंप्रोवाइज्ड एक्सप्लोसिव डिवाइस (आईईडी) बनाते वक्त हो गई. जम्मू- कश्मीर के पुलिस महानिदेशक एसपी वेद ने कहा, "हांडूरा एरिपल त्राल के पास आईईडी बनाते वक्त इसमें विस्फोट हो गया, जिससे जेईएम के एक आतंकवादी की मौत हो गई. जम्मू एवं कश्मीर पुलिस को आतंकवादी का शव मिला है."

गौरतलब है कि सेना ने सुरक्षाबलों के साथ मिलकर जम्मू-कश्मीर में आतंकवादियों के सफाए के लिए ऑपरेशन ऑलआउट चला रखा है. सेना का दावा है कि उसने इस ऑपरेशन के तहत अब तक 190 आतंकियों का सफाया किया है. ऑपरेशन ऑलआउट में मारे गए ज्यादातर आतंकी लश्कर और इंडियन मुजाहिद्दीन के हैं.

गौरतलब है कि कश्मीर के कई युवा जो गुमराह होकर आतंकी बन गए थे. वो सेना के ऑपरेशन के बाद लगातार सरेंडर कर रहे हैं. इस साल नंवबर के महीने में लश्कर-ए-तैयबा में शामिल 20 साल के युवा फुटबॉलर माजिद खान ने घर वापसी का फैसला लिया था. माजिद ने सुरक्षाबलों के सामने सरेंडर कर दिया था.

सेना ने माजिद के इस कदम की तारीफ की थी. सेना ने कहा था कि हम माजिद के इस फैसले की सराहना करते हैं और यकीन दिलाते हैं कि वो दोबारा अपनी आम जिंदगी में वापस जाएगा. माजिद के सरेंडर के बाद जम्मू-कश्मीर की सीएम महबूबा मुफ्ती ने ट्वीट करते हुए लिखा था, "अंतत: मां की ममता जीत गई. उसकी करुणामयी अपील ने एक उभरते फुटबाल खिलाड़ी को घर लौटने के लिए प्रेरित किया."

First published: 16 December 2017, 16:30 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी