Home » जम्मू-कश्मीर » Jammu and Kashmir Service Selection Board issues admit card to donkey for Naib Tehsildar recruitment photo viral
 

इस परीक्षा के लिए गधे के नाम जारी कर दिया एडमिट कार्ड, उड़ रहा मजाक

कैच ब्यूरो | Updated on: 28 April 2018, 12:25 IST

अगर एग्जाम रूम में आप किसी गधे को पेपर देते देखें तो आपको कैसा लगेगा. यकीनन आपको हैरान ही नहीं बल्कि बहुत हैरानी होगी. लेकिन जम्मू-कश्मीर में शायद ये आम बात होने वाली है. क्यों कि जम्मू कश्मीर में कभी गाय को एडमिट कार्ड जारी कर दिया जाता है. तो कभी गधे को.

इस बार भी कुछ ऐसा ही हुआ है. जब नायब तहसीलदार भर्ती परीक्षा के लिए गधे को एडमिट कार्ड जारी कर दिया गया. गधे को एडमिट कार्ड जारी करने की कहानी अब सोशल मीडिया में तेजी से वायरल हो रही है. दरअसल, जम्मू-कश्मीर सेवा चयन बोर्ड की रविवार को परीक्षा होने वाली है. जिसके लिए बोर्ड ने एडमिट कार्ड जारी किए हैं.

इस परीक्षा में शामिल होने के लिए बोर्ड ने एक कचुर खार (भूरा गधा) के नाम भी एडमिट कार्ड जारी किया है. इस एडमिट कार्ड के सामने आने से लोग हैरान है. ऐसा माना जा रहा है कि किसी ने मजाक-मजाक में गधे के नाम पर आवेदन कर दिया होगा. गधे की फोटो लगी इस एडमिट कार्ड की तस्वीरें सोशल मीडिया में खूब वायरल हो रही हैं. इस एडमिट कार्ड में गधे की तस्वीर नजर आ रही है.

 

सोशल मीडिया पर उड़ रहा बोर्ड का मजाक

गधे की फोटो लगे एडमिट कार्ड पर यूजर्स बोर्ड का मजाक बना रहे हैं. ट्विटर पर एक यूजर्स ने लिखा, यह हास्यास्पद है कि गधे के नाम पर प्रवेश पत्र जारी किया गया और फिर इसे समाचार बना दिया गया. यह दिखाता है कि हमारे पास कितना फालतू समय है.”

 

वहीं फेसबुक पर एक यूजर ने लिखा, “ इस आवेदन पत्र को एसएसबी डिलीट कर सकता था क्योंकि साल 2015 में भी ऐसा ही मामला हुआ था. ”साल 2015 में व्यावसायिक प्रवेश परीक्षा बोर्ड ने एक गाय के नाम पर प्रवेश पत्र जारी कर दिया था.

बता दें कि इससे पहले साल 2015 में बोर्ड ऑफ प्रोफेशनल एंट्रेंस एग्जाम के लिए एक गाय के नाम एडमिट कार्ड जारी कर दिया था. जानवरों के नाम एडमिट कार्ड जारी होने से ऐसा लगता है कि बोर्ड को इस बात की कोई फिक्र नहीं है कि वो एडमिट कार्ड किसके लिए जारी कर रहे हैं. इस तरह की गलती होना बोर्ड की लापरवाही की ओर इशारा करती है.

ये भी पढ़ेंजब महिला ने YouTube की मदद से दिया बच्चे को जन्म

First published: 28 April 2018, 12:25 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी