Home » जम्मू-कश्मीर » jammu kashmir: Infiltration bid foiled by Security forces in Rampur sector,Four terrorists killed.
 

कश्मीर: बुरहान का साथी हिज़बुल कमांडर सबज़ार भी ढेर, 8 आतंकी मारे गए

कैच ब्यूरो | Updated on: 27 May 2017, 23:48 IST
बुरहान वानी के साथ सबज़ार अहमद बट/ फेसबुक

कश्मीर घाटी में अलग-अलग जगह एनकाउंटर के दौरान सुरक्षाबलों ने हिजबुल मुजाहिदीन के कमांडर सबज़ार बट समेत 8 आतंकियों को ढेर कर दिया है. त्राल में भारतीय सेना को बड़ी कामयाबी मिली है. यहां हिजबुल के कमांडर सबजार अहमद बट को मुठभेड़ में मार गिराया गया है.

सबजार पिछले साल जुलाई में मारे गए हिजबुल कमांडर बुरहान वानी का साथी था. उसे वानी के बाद हिजबुल का टॉप कमांडर बनाया गया था. सोशल मीडिया पर बुरहान के साथ सबजार बट की तस्वीरें भी सामने आई थीं.  

इसके साथ ही जम्मू-कश्मीर में सीमा पार से आतंकियों की बड़ी घुसपैठ को भी भारतीय सेना ने नाकाम कर दिया है. घाटी के बारामूला के रामपुर सेक्टर में सेना ने घुसपैठ की कोशिश कर रहे 6 आतंकियों को मार गिराया है. सेना ने पूरे इलाके की घेराबंदी करके सर्च ऑपरेशन भी चलाया. 

दक्षिण कश्मीर के त्राल में एक घंटे तक चली मुठभेड़ में हिजबुल कमांडर सबजार बट के साथ ही फैजान को भी मार गिराया गया.

त्राल एनकाउंटर में 2 आतंकी ढेर

दक्षिण कश्मीर के त्राल में एक घंटे तक चली मुठभेड़ के दौरान सेना ने हिजबुल मुजाहिदीन के कमांडर सबज़ार अहमद बट समेत दो आतंकियों को मार गिराया. सबजार बट को बुरहान वानी के बाद घाटी में कमांडर बनाया गया था. उसे दक्षिण कश्मीर में सुरक्षाबलों के ख़िलाफ़ आतंकी हमलों को तेज़ करने की जिम्मेदारी मिली थी. 

हाल ही में कश्मीर में हिजबुल मुजाहिदीन में बिखराव देखने को मिला था. हुर्रियत कॉन्फ्रेंस के नेताओं के खिलाफ दिए बयान से किनारा करने पर जाकिर मूसा ने हिजबुल से नाता तोड़ लिया था. मूसा ने कहा था कि कश्मीर के संघर्ष को इस्लाम के संघर्ष के रूप में देखा जाए और इसे केवल आजादी की लड़ाई बताने की अगर हुर्रियत नेताओं ने हिमाकत की, तो उनका सिर श्रीनगर के लाल चौक पर टांग दिया जाएगा.

जाकिर मूसा ने हाल ही में हिजबुल मुजाहिदीन से नाता तोड़ लिया था.

बुरहान की मौत के बाद घाटी अशांत

पुलवामा जिले के त्राल इलाके में आतंकियों ने शुक्रवार रात सेना के एक गश्ती दल पर हमला कर दिया था, जिसके बाद सेना ने वहां घेराबंदी की. इस दौरान हिजबुल के टॉप कमांडर सबजार अहमद बट समेत दो आतंकियों को मार गिराने में कामयाबी मिली. एनकाउंटर में मारे गए दूसरे आतंकी की पहचान फ़ैजान के तौर पर हुई है.

कश्मीर घाटी में युवाओं को चरमपंथ की ओर प्रभावित करने के लिए सोशल मीडिया का इस्तेमाल भी सबज़ार के दिमाग़ की उपज माना जाता है. पिछले साल हिजबुल कमांडर बुरहान वानी की मौत के बाद से कश्मीर घाटी सुलग रही है. पथराव और हिंसक घटनाओं में तकरीबन 100 लोग जान गंवा चुके हैं.

हुर्रियत ने बुलाया 2 दिन का बंद

उरी में सितंबर 2016 में सेना के कैंप पर हमला सबसे बड़ी आतंकी वारदात थी. इसके बाद भारत ने नियंत्रण रेखा को पार करते हुए सर्जिकल स्ट्राइक को अंजाम दिया था. भारत और पाकिस्तान के संबंध तभी से सामान्य नहीं हो पाए हैं.

इस बीच सबज़ार की मुठभेड़ में मौत के बाद हुर्रियत कॉन्फ्रेंस ने घाटी में दो दिन के बंद का एलान किया है. दक्षिण कश्मीर के कई इलाकों से सुरक्षाबलों और लोगों के बीच हिंसक झड़प और पथराव की घटनाएं भी सामने आ रही हैं.

पिछले साल जुलाई में हिजबुल कमांडर बुरहान वानी को सुरक्षाबलों ने एनकाउंटर में मार गिराया था.

कश्मीर में पिछले कुछ दिनों से आतंकी गतिविधियों में इजाफा हुआ है. लगातार सीमा पार से घुसपैठ की खबरें आ रही हैं. शुक्रवार को उरी सेक्टर में एलओसी के पास भारतीय सेना की पेट्रोलिंग टीम ने घुसपैठ की कोशिश कर रहे पाक बॉर्डर एक्शन टीम (BAT) के दो हमलावरों को ढेर करते हुए उनके मंसूबों को नाकाम कर दिया था.

First published: 27 May 2017, 11:11 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी