Home » जम्मू-कश्मीर » Kashmir Valley is going to normal after relaxed the protest
 

चार महीने बंद के बाद कश्मीर घाटी में पटरी पर लौटी जिंदगी

कैच ब्यूरो | Updated on: 10 February 2017, 1:39 IST
(एएफपी)

अलगाववादियों द्वारा हड़ताल में 2 दिन की छूट दिए जाने के बाद कश्मीर घाटी में आज जनजीवन सामान्य होता दिखा. कश्मीर के कई हिस्सों में ऑफिस, दुकान और अन्य व्यावसायिक प्रतिष्ठान शनिवार को खुले. करीब 4 महीने के बंद के बाद घाटी में जनजीवन वापस पटरी पर लौटता हुआ दिखाई दिया. घाटी में पिछले कुछ सप्ताह से हालात शांतिपूर्ण बने हुए हैं.

हिंसक झड़पों की शुरुआत के बाद से पहली बार शनिवार सुबह दुकान, कार्यालय, व्यावसायिक प्रतिष्ठान और पेट्रोल पंप खुले. श्रीनगर में सड़कों पर बहुत अधिक यातायात देखने को मिला. इसी तरह बाजारों में भी काफी भीड़ देखी गई. दसवीं और 12वीं कक्षा की बोर्ड परीक्षा शुरू होने के बाद घाटी में जनजीवन धीरे-धीरे सामान्य हो रहा है.

एएफपी

इससे पहले शुक्रवार (18 नवंबर) रात से घाटी में पोस्टपेड नंबरों पर मोबाइल इंटरनेट सेवा फिर से बहाल कर दी गई. हालांकि प्रीपेड नंबरों पर इस तरह की सेवा अब तक चालू नहीं की गई है. अलगाववादियों ने पहली बार शनिवार (19 नवंबर) से दो दिन के लिए हड़ताल में छूट की घोषणा की है.

गौरतलब है कि कश्मीर के अनंतनाग जिले में सुरक्षा बलों के साथ मुठभेड़ में आठ जुलाई को हिजबुल मुजाहिदीन के कमांडर बुरहान वानी की मौत के बाद भड़की हिंसा में अब तक 86 लोगों की मौत हो चुकी है. वहीं 5,000 सुरक्षाकर्मियों समेत कई अन्य घायल हो चुके हैं. 

First published: 19 November 2016, 6:21 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी