Home » जम्मू-कश्मीर » modi govt Amnesty To Free 4,500 Caught In Kashmir's Stone-Pelting Protests, Mehbooba Mufti happy
 

कश्मीर में पत्थरबाजों को मिली माफी पर महबूबा ने ट्वीट कर ये कहा

कैच ब्यूरो | Updated on: 23 November 2017, 12:12 IST

जम्मू एवं कश्मीर की मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती ने कश्मी में पहली बार पथराव करने वाले युवाओं के खिलाफ दायर एफआईआर को वापस लेने के फैसले का ऐलान किया है.  

महबूबा ने बुधवार रात को ट्वीट कर कहा, "पहली बार पत्थरबाजों के खिलाफ एफआईआर वापस लेने की प्रक्रिया को दोबारा शुरू कर मुझे अत्यंत संतुष्टि मिली है. मेरी सरकार ने यह प्रक्रिया मई 2016 में ही शुरू कर दी थी लेकिन दुर्भाग्यवश घाटी में फैली अशांति की वजह से यह प्रक्रिया रूक गई थी."

उन्होंने एक और ट्वीट करते हुएकहा, "यह उन युवा लड़कों और उनके परिवार वालों के लिए आशा की एक किरण है. यह पहल उन्हें अपने भविष्य के निर्माण का दोबारा अवसर प्रदान कराएगा." 

 

जम्मू एवं कश्मीर मसले पर केंद्र सरकार के विशेष प्रतिनिधि दिनेश्वर शर्मा के सुझाव पर विचार करते हुए यह फैसला उठाया गया है ताकि कश्मीर मुद्दे को सुलझाने के लिए वार्ता जारी रखने हेतु सभी हितधारकों में विश्वास बढ़े.

गौरतलब है कि कश्मीर घाटी में बीते साल आतंकी बुरहान की मौत के बाद भड़की हिंसा के दौरान पत्थरबाजों के खिलाफ 11500 मामले दर्ज किए गए. इनमें 4500 से ज्यादा मामले उन किशोरों के खिलाफ हैं जो पहली बार पत्थरबाजी में लिप्त पाए गए हैं.

(आईएएनएस के इनपुट के साथ)

First published: 23 November 2017, 12:12 IST
 
अगली कहानी