Home » गवर्मेन्ट जॉब्स » Allahabad high court ruled candidates having engineering degree can not appointed as a junior engineers
 

इंजीनियरिंग की डिग्री रखने वालों के लिए बुरी खबर, अब नहीं बन सकते जूनियर इंजीनियर

कैच ब्यूरो | Updated on: 26 July 2019, 14:23 IST

अगर आपके पास इंजीनियरिंग की डिग्री है या आप इंजीनियरिंग की पढ़ाई कर रहे हैं तो आपके लिए बुरी खबर है. क्योंकि इंजीनियरिंग की डिग्री की सहारे अब आप जूनियर इंजीनियर नहीं बन सकते. इलाहाबाद हाईकोर्ट ने एक मामले की सुनवाई के दौरान कहा कि जिन अभ्यर्थियों के पास इंजीनियरिंग की डिग्री है, उन्हें जूनियर इंजीनियर के पदों पर नियुक्त नहीं किया जा सकता है.

बता दें कि, इलाहाबाद कोर्ट में एक मामला आया था, जिसमें राज्य सरकार ने जूनियर इंजीनियर के पदों पर नियुक्ति के लिए विज्ञापन निकाला. इस विज्ञापन में राज्य सरकार ने सिर्फ उन अभ्यर्थियों को जूनियर इंजीनियर के पदों पर आवेदन के योग्य बताया था जिनके पास इंजीनियरिंग में डिप्लोमा है.

इस विज्ञापन को देखने के बाद इंजीनियरिंग की डिग्री रखने वाले कुछ अभ्यर्थियों ने याचिका दायर की. जिन उम्मीदवारों के पास इंजीनियरिंग की डिग्री है. उनकी दलील थी कि वे डिप्लोमाधारी अभ्यर्थियों से ज्यादा क्वालिफाइड हैं तब उन्हें भी इन पदों पर नियुक्ति पाने का मौका क्यों नहीं दिया जा रहा है.

इस मामले की सुनावाई करते हुए तीन जजों, जस्टिस बीके नारायण, जस्टिस रमेश सिन्हा और जस्टिस पंकज भाटिया की बेंच ने कहा कि किसी पद पर नियुक्ति के लिए निकाले गए विज्ञापन में किन योग्यताओं की जरूरत है, उसका फैसला करने का अधिकार राज्य सरकार के पास होता है.

कोर्ट ने कहा कि यह न्यायिक समीक्षा का मामला नहीं हो सकता. इसलिए इस मामले में राज्य सरकार द्वारा जारी विज्ञापन के आधार पर इंजीनियरिंग में डिग्री रखने वाले उम्मीदवारों को जेई यानि जूनियर इंजीनियर के पदों पर नियुक्ति नहीं दी जा सकती. ऐसे अभ्यर्थी राज्य सरकार द्वारा जारी जूनियर इंजीनियर के पदों पर की जाने वाली इस नियुक्ति के लिए योग्य नहीं माने जा सकते और ना ही वे आवेदन कर सकते हैं. ये याचिका इंजीनियरिंग की डिग्रीधारक दीपक सिंह सहित नौ अन्य उम्मीदवारों ने दायर की थी.

SSC: इंडियन आर्मी में नौकरी का शानदार मौका, इंजीनियर, ग्रेजुएट करें अप्लाई

First published: 26 July 2019, 14:11 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी