Home » गवर्मेन्ट जॉब्स » Railway Recruitment Board will recruit 5000 posts in Railway Protection Force
 

सरकारी नौकरी: रेलवे बोर्ड जल्द करेगा RPF में 5000 जवानों की भर्ती

कैच ब्यूरो | Updated on: 18 March 2018, 14:07 IST
(patrika)

भारतीय रेलवे विश्व में चौथा बड़ा रेल नेटवर्क है और करीब 1.332 मिलियन कर्मचारियों के साथ पूरी दुनिया में 8वीं सबसे ज्याादा रोजगार देने वाला संगठन है. भारत में 68,525 किलोमीटर के व्यापक दायरे में रेलवे का जाल फैला है. हमारे देश की यातायात व्यवस्था बड़े पैमाने पर रेलवे पर निर्भर है. यात्रियों की सुरक्षा व्यवस्था सुनिश्तित करना रेलवे की एक बड़ी चुनौती है, इसीलिए रेलवे सुरक्षा बल ( RPF ) का गठन किया गया था.

वर्तमान में करीब 65  हजार सुरक्षाकर्मी रेलवे में तैनात हैं. रेलवे भर्ती बोर्ड जल्द ही आरपीएफ के 5000 जवानों की बहाली करेगा, इसके लिए बोर्ड ने सभी रेल मंडलों से जवानों के रिक्त पदों की जानकारी मांगी है. रेलवे बोर्ड द्वारा सर्वे कराकर जवानों की कमी के कारण रेल सुरक्षा की समीक्षा की गयी और जल्द ही जवानों की भर्ती प्रक्रिया शुरू की जाएगी.

 ये भी पढ़ें- गुवाहाटी हाईकोर्ट ने इन पदों पर निकालीं भर्तियां, 31 मार्च तक कर सकते हैं अप्लाई

बता दें कि रेलवे स्टेशनों पर लगातार यात्रियों की संख्या बढ़ती जा रही है. खासकर त्योहारों, छुट्टियों के दिनों में ट्रेनों में भारी भीड़ देखने को मिलती है. ऐसी स्थिति में आरपीएफ के लिए भीड़ को नियंत्रित करना एवं सुरक्षा मुहैया कराना एक बड़ी चुनौती बन जाता है. जवानों की कमी के चलते रेलवे यात्रियों की सुरक्षा के लिए बनाई गई योजना पर काम नहीं कर पा रहा है. वहीं सुरक्षा के लिहाज से चिह्नित की गई ट्रेन में भी स्क्वाएड की कमी रहती है.

रेलवे सुरक्षा बल के जवानों को ट्रेन स्क्वॉड के अलावा वीआईपी मूवमेंट, रेलवे अधिकारी आवास और अन्य बंदोबस्त ड्यूटियां निभानी पड़ती हैं. रेलवे स्टेशनों पर सुरक्षा बलों की भारी कमी रहती है. रेलवे स्टेशन पर यात्रियों की संख्या और आने वाली ट्रेनों के हिसाब से सुरक्षा का ढांचा तैयार कर रही है. इसके लिए स्टेशनों को चिह्नित कर वहां रुकने वाली ट्रेनों की संख्या और यात्रियों के हिसाब से प्रारूप तैयार किया जा रहा है. अगर इस योजना पर काम हुआ तो मौजूद सुरक्षा कर्मियों से तीन गुना ज्यादा जवानों की आवश्यकता पड़ेगी.

First published: 18 March 2018, 14:07 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी