Home » गवर्मेन्ट जॉब्स » REET Exam 2018: Secondary Education Board Rajasthan will not issue Merit for REET Exam held in 11 february 2018
 

REET की मेरिट जारी नहीं करेगी सरकार, इन उम्मीदवारों को होगा फायदा

कैच ब्यूरो | Updated on: 9 April 2018, 17:20 IST

राजस्थान अध्यापक पात्रता परीक्षा (REET) की मेरिट जारी नहीं की जाएगी. माध्यमिक शिक्षा बोर्ड राजस्थान की ओर से ये जानकारी दी गई है, जिन उम्मीदवारों ने इस परीक्षा में 60 फीसदी या उससे अधिक अंक प्राप्त किया है, उन सभी उम्मीदवारों को उत्तीर्ण कर रिजल्ट जारी कर दिया जायेगा.  लेकिन नियुक्ति उन्हीं उम्मीदवारों की होगी जिनका कट ऑफ मार्क्स अधिक होगा.

पदों की संख्या के अनुपात में जिन अभ्यर्थियों का अंक ज्यादा होंगे उन्हें ही राजस्थान के सरकारी विद्यालयों में शिक्षक के पदों पर नौकरी मिलेगी. राजस्थान में 54 हजार शिक्षकों की भर्ती के लिए  11 फरबरी 2018 को REET  की परीक्षा आयोजित की गई थी. राज्य सरकार ने पहले 35 हजार पदों के लिए नोटिफिकेशन जारी की थी, लेकिन बाद में 19 हजार पदों को और बढ़ाया गया.

ये भी पढ़ें - सब-इंस्पेक्टर, कांस्टेबल के 7473 पदों पर होगी भर्तियां, विभाग ने किये ये बड़े बदलाव

तीन साल तक होंगे योग्य 

गौरतलब है कि REET की आंसर-की(Answer-Key) जारी कर दी गयी थी और इस पर आपत्तियां दर्ज करवाने का मौका भी उम्मीदवारों को दिया था. माध्यमिक शिक्षा बोर्ड राजस्थान ने रीट में अंको  के आधार पर पिछड़ गए अभ्यर्थियों को लगातार 3 साल तक तक निकलने वाली वैकेंसी के लिए मौका देने का फैसला किया है. मतलब इस बार हुए REET परीक्षा के कट ऑफ मार्क्स 3 सालों तक मान्य होंगे.

पेपर लीक का भी आरोप

उम्मीदवारों ने इस परीक्षा में भ्रष्टाचार के भी आरोप लगाए थे और रीट संघर्ष समिति नाम का एक कम्पैन भी चलाया. इस दौरान बेरोजगारों ने 11 फरवरी को हुए रीट के पेपर को रद्द कर फिर से कराने की मांग की. समिति के सदस्यों ने पेपर लीक का भी आरोप लगाया और कहा कि जिस तरह से CBSE का पेपर परीक्षा से पहले ही सोशल मीडिया पर आ गया था उसी प्रकार REET  का पेपर भी परीक्षा से पहले ही सोशल मीडिया पर वायरल हो गया था.

First published: 8 April 2018, 13:34 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी