Home » गवर्मेन्ट जॉब्स » RRB 2018: Railway Recruitment board may conduct examination for recruitment of 90 thousand vacancies in july
 

RRB: रेलवे में निकली 90 हजार पदों पर भर्ती-परीक्षा जुलाई में संभव

कैच ब्यूरो | Updated on: 19 May 2018, 17:14 IST

रेलवे ने इस साल करीब 90 हजार पदों पर भर्ती के लिए कई वैकेंसी निकाली है और इसके लिए लगभग 2 करोड़ 36 लाख उम्मीदवारों ने आवेदन किए हैं. हमारे देश में बेरोजगारी का आलम ये है कि 1 पद के लिए 236 दावेदारों ने अप्लाई किया है. इस भर्ती के लिए आयोजित होने वाली परीक्षा में देरी हो सकती है. उम्मीद है कि रेलवे लिखित परीक्षा जुलाई में कंडक्ट कर सकती है. गौरतलब है कि अगले साल 2019 में लोकसभा चुनाव होने हैं, रेलवे भर्ती से संबंधित सभी प्रक्रिया को चुनाव से पहले कम्पलीट करने का प्रयास करेगी.

यह रेलवे की सबसे बड़ी रिक्रूटमेंट ड्राइव है. इन पदों के लिए आयोजित होने वाली परीक्षा में 100 ऑब्जेक्टिव प्रश्न पूछे जाएंगे. खबरों की माने तो  रेलवे इस भर्ती प्रक्रिया को जल्द पूरा करने की योजना बना रही है. रेलवे इस साल के अंत तक कंप्यूटर बेस्ड टेस्ट (CBT) के माध्यम से चयन प्रक्रिया पूरा करने की तैयारी कर रही है. पिछले वर्ष 18 हजार पदों पर भर्ती प्रक्रिया को पूरा करने के लिए रेलवे रिक्रूटमेंट बोर्ड को डेढ़ साल से भी ज्यादा का समय लगा था. इसके लिए 92 लाख लोगों ने आवेदन किया था.

रेलवे जुलाई में ले सकती है लिखित परीक्षा

पहले कयास लगाए जा रहे थे कि रेलवे बोर्ड को भर्ती प्रक्रिया पूरा करने में 2 साल का समय लग सकता है. चयन प्रक्रिया को जल्द पूरा करने के लिए रेलवे भर्ती बोर्ड के चेयरमैन अश्विनी लोहानी के गाइडलाइन में 40 अधिकारियों की टीम दिन-रात काम कर रही है. संभावना है कि इस भर्ती के लिए लिखित परीक्षा जुलाई के दूसरे सप्ताह में देशभर में शुरू हो सकती है. परीक्षा के अन्य कार्यों के लिए रेलवे बोर्ड अन्य सर्विस प्रोवाइडर एजेंसी से भी संपर्क कर रही है. 15 भाषाओं में आयोजित होने वाली इस परीक्षा के लिए 500 परीक्षा केंद्रों पर करीब डेढ़ लाख कंप्यूटर का प्रयोग किया जाएगा.

दिसंबर तक चयन प्रक्रियापूरा करने की कोशिश

रेलवे के एक अधिकारी ने बताया कि भर्ती प्रक्रिया से जुड़ा प्रोसेस नवंबर-दिसंबर तक पूरा करने की कोशिश है. ऐसा होने पर अंतिम रूप से चयनित उम्मीदवार अगले साल शुरुआत में ज्वाइन कर पाएंगे. भर्ती प्रक्रिया जल्दी पूरा होने के दो फायदे होंगे. पहला तो संबंधित पदों पर आवेदन करने वाले लोगों को प्रोसेस पूरा होने के लिए ज्यादा इंतजार नहीं करना पड़ेगा. दूसरा यह कि रेलवे में कम स्टॉफ के कारण होने वाली समस्या नहीं होगी.

रेलवे रिक्रूटमेंट बोर्ड को असिस्टेंट लोको पायलट और टेक्निशियन के 26,502 रिक्त पदों के लिए लगभग 48 लाख आवेदन प्राप्त हुए थे. वहीं ग्रुप D के 62,907 पदों के लिए बोर्ड को 1.9 करोड़ आवेदन मिले थे. ग्रुप C  के पदों पर नियुक्ति के लिए इंटरव्यू का आयोजन नहीं किया जाएगा. लिखित परीक्षा और साइकोलॉजी टेस्ट के आधार पर उम्मीदवार का सेलेक्शन जाएगा. ग्रुप डी लेवल-1 के पदों के लिए लिखित परीक्षा और फिजिकल फिटनेस टेस्ट के आधार पर अभ्यर्थियों को नौकरी मिलेगी.

First published: 19 May 2018, 17:14 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी