Home » गवर्मेन्ट जॉब्स » Rupee recovers from record low, up 23 paise against US dollar Due to 8.2% GDP growth in April-June quarter of current fiscal
 

रुपये की सेहत में सुधार, मोदी सरकार के इन आंकड़ों का है कमाल !

कैच ब्यूरो | Updated on: 3 September 2018, 12:14 IST

डॉलर के मुकाबले रिकॉर्ड गिरावट दर्ज कर 71 पार करने के बाद रुपये में सुधार देखने को मिला है. अमेरिकी डॉलर के मुकाबले भारतीय मुद्रा रूपया 23 पैसे मजबूत होकर 70.77 पर पहुंच गया.

चालू वित्त वर्ष की अप्रैल-जून तिमाही के लिए जारी की गई मजबूत विकास दर और जीडीपी में बढ़ोतरी के कारण रुपये की सेहत में सुधार आया है. सोमवार को इंटरबैंक विदेशी मुद्रा बाजार में शुरुआती कारोबार में अमेरिकी डॉलर के मुकाबले 23 पैसे मजबूती के साथ खुला.

सरकार द्वारा जारी किए गए आधिकारिक आंकड़ों से के मुताबिक मैन्युफैक्चरिंग और कृषि क्षेत्रों के मजबूत प्रदर्शन से भारत की अर्थव्यवस्था अप्रैल-जून तिमाही में 8.2 % की दर से बढ़ रही है जो कि दो साल का उच्चतम स्तर है. मतलब भारत का जीडीपी 8.2 फीसदी है और भारतीय अर्थव्यवस्था विश्व में सबसे तेजी से बढ़ती अर्थव्यवस्था में शुमार हो चुकी है.

ऐसे कमजोर हुआ था रुपया

आर्थिक जानकर तुर्की में जारी आर्थ‍िक संकट को भी रुपये के कमजोर होने की वजह बता रहें है और कुछ अमेरिका चीन के बीच चल रहे ट्रेड-वार को भी इसका कारण बता रहे हैं. बता दें कि भारत एक आयातक देश है, हमारे देश को दूसरे देशों से तेल और अन्य सामान खरीदने के लिए अधिकांशतः यूएस डॉलर में भुगतान करना होता है.

ऐसे में हमारे यहां महगाई दर भी बढ़ सकती है, एक ओर जहां तेल की कीमतों में लगातार बढ़ोतरी हो रही है तो दूसरी ओर रुपये का अवमूल्यन हो रहा है.

First published: 3 September 2018, 12:11 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी