Home » गवर्मेन्ट जॉब्स » UGC has changed rules for teachers vacancy, Graduation will be given more value than PHD
 

UGC ने बदले शिक्षक भर्ती के नियम, PHD से ज्यादा ग्रेजुएशन की वैल्यू

कैच ब्यूरो | Updated on: 13 February 2018, 14:14 IST

यूजीसी ने शिक्षक भर्ती के अपने नियमों में बदलाव किये हैं. इसके हिसाब से ग्रेजुएट उम्मीदवारों को पीएचडी से ज्यादा अहम माना है और ग्रेजुएट उम्मीदवारों का स्कोर पीएचडी से भी ज्यादा तय किया है.

नए नियमों के अनुसार असिस्टेंट प्रोफेसर पद पर अप्लाई करने पर ग्रेजुएट उम्मीदवारों को 21 स्कोर दिया जाएगा और पीएचडी किए हुए उम्मीदवारों को 20 स्कोर ही दिया जाएगा. इससे साफ होता है कि आयोग प्रोफेसर पद के लिए अच्छे अंकों से पास ग्रेजुएट को प्राथमिकता दे रही है.

इस ड्राफ्ट के अनुसार ग्रेजुएशन में 80 फीसदी से अधिक अंक हासिल करने वाले उम्मीदवारों को 21, 60 से 79 फीसदी अंक हासिल करने वाले उम्मीदवारों को 19 और 55 से 59 फीसदी अंक हासिल करने वाले को 16 स्कोर दिए जाएंगे.

वहीं पोस्ट ग्रेजुएशन में 80 फीसदी से अधिक हासिल करने वाले उम्मीदवारों को 33, 60 से 79 फीसदी अंक हासिल करने वालों को 30 और 55 से 59 फीसदी अंक हासिल करने वालों को 25 स्कोर दिया जाएगा. साथ ही एमफिल उम्मीदवारों को 7 स्कोर दिया जाएगा और पीएचडी धारकों को 20 अंक दिए जाएंगे.

इसमें टीचिंग का अनुभव रखने वाले उम्मीदवारों को 10 स्कोर का फायदा होगा. बता दें कि इस स्कोर के आधार पर उम्मीदवारों का टीचर पद पर चयन किया जाता है. बताया जा रहा है कि नए नियमों से ग्रामीण इलाकों से ग्रेजुएशन करने वाले उम्मीदवारों पर इसका असर ज्यादा पड़ेगा.

First published: 13 February 2018, 14:14 IST
 
अगली कहानी