Home » गवर्मेन्ट जॉब्स » under Ministry of Health 1 lakh vacancy for Ayushman mitra for Modi Government's ambitious Ayushman Bharat Scheme
 

RRB के बाद केंद्र सरकार के इस विभाग में 1 लाख पदों पर वैकेंसी, ऐसे होगा चयन

कैच ब्यूरो | Updated on: 14 August 2018, 9:35 IST

भारत सरकार के स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय अंतर्गत योजना के लिए 1 लाख पदों पर नौकरी दी जाएगी. मोदी सरकार की महत्वाकांक्षी आयुष्मान भारत योजना के सुचारु कार्यान्वन के लिए यह भर्ती की जाएगी. आयुष्मान भारत के मुख्य कार्यकारी अधिकारी (CEO) के मुताबिक इसके तहत एक लाख 'आयुष्मान मित्र' की भर्ती की जाएगी. स्वास्थ्य मंत्रालय के एक आकलन में जानकारी मिली है कि अगले पांच साल में 2 लाख नौकरियों का सृजन हो सकता है.

01 लाख भर्ती आयुष्मान मित्र

उम्मीदवारों को अस्पतालों, रिसर्च सेंटर, बीमा कंपनियों, कॉल सेंटर और अन्य जगहों पर जॉब-ऑफर किया जाएगा. मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक आयुष्मान भारत के सीईओ इंदु भूषण ने बताया कि '' स्वास्थ्य मंत्रालय का मानना है कि इस योजना से लोगों के लिए करीब 2 लाख नई नौकरियों का सृजन होगा. इसमें से करीब 01 लाख भर्ती आयुष्मान मित्र / वालंटियर के लिए होगी.''स्वास्थ्य मंत्रालय के एक आकलन में जानकारी मिली है कि अगले पांच साल में 2 लाख नौकरियों का सृजन हो सकता है.

सैलरी

चयनित उम्म्मीदवारों को प्रत्येक माह 15 हजार रुपये की सैलरी दी जाएगी.  आयुष्मान मित्र को सरकारी और प्राइवेट अस्पतालों में तैनात किया जाएगा और इनको प्रशिक्षण दिया जाएगा, ताकि वे योजना के बारे में अच्छी जानकारी हासिल कर सकें.

ये भी पढ़ें-15 अगस्त से बढ़ेगी स्पीड और बदलेगा आपकी ट्रेन का समय, ये है नया टाइम-टेबल

आयुष्मान भारत के सीईओ ने बताया कि आयुष्मान मित्रों को ट्रेनिंग देने के लिए स्वास्थ्य मंत्रालय और कौशल विकास मंत्रालय के बीच एक समझौता हुआ है. पहले चरण की भर्ती में इस वित्त वर्ष के अंत तक ही करीब 10,000 आयुष्मान मित्र की नियुक्ति की जाएगी और निजी क्षेत्र में करीब 60,000 नौकरियों का सृजन हो जाएगा.

आयुष्मान भारत केंद्र सरकार की राष्ट्रीय स्वास्थ्य सुरक्षा योजना के तहत शुरू हो रही पीएम मोदी की एक महत्वाकांक्षी योजना है. इसके तहत 10 करोड़ गरीब परिवारों को सालाना 5 लाख रुपये तक की कैशलेश स्वास्थ्य बीमा मुहैया की जाएगी. इस योजना से करीब 45  करोड़ लोगों को सीधा लाभ मिलेगा. इस योजना का ऐलान वित्त मंत्री अरुण जेटली ने आम बजट 2018-19 में किया गया था.

First published: 14 August 2018, 9:35 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी