Home » गवर्मेन्ट जॉब्स » Union Budget 2019: FM Nirmala Sitharaman Says 1 crore loan for MSMEs business in under 59 minutes through online portal
 

बजट 2019: बिजनेस करने वालों पर हुई खुशियों की बरसात, एक घंटे में मिलेगा 1 करोड़

दीपक कुमार सिंह | Updated on: 5 July 2019, 19:10 IST

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण द्वारा पेश किए गए इस आम बजट में नया बिजनेस शुरू करने वालों को बड़ा तोहफा दिया है. वित्त मंत्री ने बजट भाषण में कहा है कि सरकार ने सूक्ष्म, लघु एवं मझोले उद्यमों (MSME) को प्रोत्साहन देने के लिए लोन को लेकर नई सुविधा दी है. इसके जरिए इन उद्यमियों को 1 करोड़ रुपये तक का लोन सिर्फ 1 घंटे में अंदर पास हो जाएगा, यह सुविधा वर्त्तमान में मौजूद बिजनेस के लिए ही है. लेकिन नए बिजनेस के लिए भी इसके तहत जल्द ही लोन मिलने लगेगा. लोन का पैसा आठ वर्किंग-डे के भीतर लाभुकों के खाते में ट्रांसफर कर दिया जाएगा.

59 मिनट में 1 करोड़ का लोन

वित्त मंत्री ने कहा कि MSME सेक्टर के लिए लोन प्रक्रिया को सरल और सुगम बनाने के लिए सरकार ने एक विशेष ऑनलाइन पोर्टल के माध्‍यम से 59 मिनट के भीतर 1 करोड़ रुपये तक का लोन उपलब्‍ध कराने की योजना शुरू की है. बिज़नेस के लिए लोन पाने हेतु बैंकों के बार-बार चक्कर काटने और डॉक्यूमेंटेशन की जटिल प्रक्रिया से मुक्ति के लिए सरकार ने यह योजना बनाई है. वित्त मंत्री ने जोर देकर कहा कि छोटी एवं मझोली इकाइयों में रोजगार सृजित करने के लिए निवेश की जरूरत है.

बजट 2019: वित्त मंत्री की सबसे जबरदस्त सौगात, आम लोगों को मिलेगा 7 लाख रुपये का लाभ

ब्‍याज माफी योजना 

बजट भाषण में वित्त मंत्री ने कहा कि ब्‍याज माफी योजना के त‍हत GST में रजिस्टर्ड सभी MSME के लिए नए या बढ़े हुए कर्ज पर 2 प्रतिशत ब्‍याज छूट के लिए फाइनेंसियल ईयर 2019-20 में 350 करोड़ रुपये आवंटित किए गए हैं.

बड़ी कंपनियों पर लगेगा 25% टैक्स

जिन कंपनियों का सालाना ट्रांजैक्शन 400 करोड़ रुपये तक का है उन पर 25 फीसदी की दर से कॉरपोरेट कर लगाने का प्रस्ताव रखा गया है. अभी तक 250 करोड़ रुपये तक का कारोबार करने वाली कंपनियों पर 25 फीसदी की दर से कर लगता था. अब इस दायरे में 99.3 फीसदी कंपनियां आ जाएंगी. नई दर लागू होने के बाद केवल 0.7 फीसदी कंपनियां ही 25 फीसदी से ऊपर के कॉरपोरेट कर के दायरे में रह जाएंगी जिनपर 30 फीसदी की दर से कॉरपोरेट टैक्स लगेगा.

First published: 5 July 2019, 19:10 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी