Home » गवर्मेन्ट जॉब्स » Union Budget 2019: share market signs positive before budget, Nifty and BSE Sensex ends on green
 

बजट से पहले शेयर बाजार ने दिए अच्छे संकेत, लेकिन सतर्क हैं निवेशक

कैच ब्यूरो | Updated on: 4 July 2019, 18:12 IST

मोदी सरकार के दूसरे कार्यकाल का पहला बजट 5 जुलाई को पेश होने वाला है. इसके ठीक एक दिन पहले घरेलू शेयर बाजार हरे निशान में होने में सफल रहे यानि बजट से पहले बाजार का मूड पॉजिटिव बना हुआ है. हालांकि निवेशक सतर्क होकर निवेश कर रहे हैं क्योंकि अर्थव्यस्था की मंद गति से बाजार आशंकित है और इस बजट से उद्दोग जगत को किसी बड़े घोषणा की उम्मीद नहीं है. जिससे स्टॉक मार्केट में कोई बड़ा उछाल नहीं देखा गया. बाजार की नजरें मोदी सरकार 2.0 द्वारा पेश होने वाले आम बजट पर हैं.

अगर घरेलू बाजार की बात करें तो बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज (BSE) का इंडेक्स सेंसेक्स 69 अंकों की हल्की बढ़त के साथ 39,908 पर बंद हुआ. जबकि नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (निफ्टी) ने 30 अंक की बढ़त के साथ 11,947 पर बंद हुआ.

मोदी सरकार 5 करोड़ लोगों को देगी रोजगार, किया मास्टर प्लान तैयार

इकोनॉमिक सर्वे 

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने आज संसद में इकोनॉमिक सर्वे पेश किया गया जिसमें में अनुमान लगाया गया है कि वित्त वर्ष (FY) 2019-20 में सकल घरेलू उत्पाद (जीडीपी) दर 7 प्रतिशत रह सकती है. इस आर्थिक सर्वेक्षण में कहा गया है कि भारत अब भी दुनिया की सबसे तेजी से बढ़ने वाली अर्थव्यवस्था है. पिछले FY में जीडीपी ग्रोथ में कमी की मुख्य वजह कृषि, निर्यात, व्यापार, ट्रांसपोर्ट और संचार के क्षेत्र में वृद्ध‍ि का कम होना है.

इकोनॉमिक सर्वे के अनुसार फाइनेंसियल ईयर 2018-19 में जीडीपी में रेट 6.8 फीसदी रही, जबकि सरकार ने पहले जीडीपी दर 7.5 प्रतिशत हासिल करने का अनुमान लगाया था. इस सर्वे में यह कहा भी गया है कि अगर 2025 तक भारत को 5 ट्रिलियन डॉलर की इकोनॉमी बनानी है तो जीडीपी में ग्रोथ रेट लगातार कम से कम 8 फीसदी तक बनाए रखनी होगी.

First published: 4 July 2019, 18:12 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी