Home » गवर्मेन्ट जॉब्स » UP TET 2019: supreme court Reverse High Court Decision and reliefs 50000 teachers of uptet
 

UP TET: 50 हजार शिक्षकों को बड़ी राहत, सुप्रीम कोर्ट ने पलटा हाईकोर्ट का फैसला

कैच ब्यूरो | Updated on: 16 July 2019, 16:11 IST

UP TET: उत्तर प्रदेश टीईटी के लगभग 50 हजार शिक्षकों को सुप्रीम कोर्ट ने बड़ी राहत दी है. सुप्रीम कोर्ट ने इलाहाबाद हाईकोर्ट द्वारा जारी 30 मई 2018 के आदेश को निरस्त करते हुए फैसला पलट दिया है. हाईकोर्ट ने अपने आदेश में कहा था कि ऐसे उम्मीदवार जिन्होंने TET पहले पास कर ट्रेनिंग बाद में की है, उनकी नियुक्ति अवैध है. सुप्रीम कोर्ट ने हाईकोर्ट के इस फैसले को बदलकर हजारों कार्यरत शिक्षकों के नौकरी की रक्षा की है.

गौरतलब है कि इलाहबाद हाईकोर्ट के आदेश के बाद 50 हजार से अधिक परिषदीय शिक्षकों की नौकरी ख़त्म होने की संभावना थी. तब इन शिक्षकों ने देश की शीर्ष अदालत का दरवाजा खटखटाया. अब सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद इन शिक्षकों ने राहत मिली. हाई कोर्ट के इस निर्णय से साल 2012 से 2018 के बीच नियुक्त 50 हजार से अधिक उन प्राइमरी और हाईस्कूल में कार्यरत शिक्षकों को राहत मिली है.

CTET Result 2019: इस दिन होंगे रिजल्ट जारी, जानें कितना होगा कट ऑफ, 14 लाख ने दी है परीक्षा

रिपोर्ट्स के मुताबिक ऐसे शिक्षकों की संख्या 50 हजार से भी अधिक है जिनका ट्रेनिंग का परिणाम टीईटी के बाद घोषित हुआ था. सुप्रीम कोर्ट के इस फैसले से वर्तमान में चल रही 68,500 सहायक अध्यापक भर्ती में शामिल उम्मीदवारों को भी राहत मिलेगा.

First published: 16 July 2019, 16:11 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी