Home » गवर्मेन्ट जॉब्स » UPSC may take action on absent candidates in civil services exam
 

UPSC: फॉर्म भरकर परीक्षा नहीं देने वालों पर होगी कार्रवाई, आयोग ने भेजा प्रस्ताव

कैच ब्यूरो | Updated on: 12 July 2019, 16:09 IST

संघ लोक सेवा आयोग (UPSC) की सिविल सेवा परीक्षा (IAS,IPS, IRS, आईएफएस) में जल्द ही कई बड़े बदलाव हो सकते हैं. यूपीएससी ऐसे उम्मीदवारों पर कड़ी कार्रवाई की तैयारी कर रहा है जो फॉर्म भरकर परीक्षा देने नहीं आते हैं. यूपीएससी ने भारत सरकार के कर्मिक एवं प्रशिक्षण विभाग को भेजे प्रस्ताव में कहा है कि अगर उम्मीदवार सिविल सर्विस प्रारंभिक परीक्षा के लिए फॉर्म तो भर देते हैं लेकिन परीक्षा में उपस्थित नहीं होते हैं तो उनके प्रयास (अटेंप्ट) में कटौती कर दी जाए. संघ लोक सेवा आयोग के अनुसार फॉर्म भरने वाले करीब 50 फीसदी उम्मीदवार परीक्षा में शामिल नहीं होते हैं. 

BEL 2019: भारत इलेक्ट्रॉनिक्स लिमिटेड में नौकरी का शानदार मौका, जानें आवेदन की योग्यता

सरकारी नौकरी: असिस्टेंट, स्टेनोग्राफर के पद पर निकली भर्तियां, जानें आवेदन की योग्यता

इससे पहले भी प्रस्ताव भेजा गया था कि अगर किसी ने फार्म भर दिया तो उसे एक अटेंप्ट माना जाए. गौरतलब है कि यूपीएससी में जनरल केटेगरी के लिए 6 अटेंप्ट अधिकतम निर्धारित है. यूपीएससी ने ऐसा प्रस्ताव इसलिए भेजा है कि फार्म भरकर परीक्षा में अनुपस्थित रहने वाले स्टूडेंट्स के प्रयास में अगर कटौती कर दी जाए तो छात्र अनावश्यक फॉर्म नहीं भरेंगे इससे संसाधनों की बचत होगी. 

First published: 12 July 2019, 16:09 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी