Home » लाइफ स्टाइल » Engagement ring trend change now can wear in any finger now, astrologers says
 

खुशहाल मैरिड लाइफ चाहते हैं तो रिंग फिंगर की जगह इस उंगली में पहनाएं सगाई की अंगूठी

कैच ब्यूरो | Updated on: 5 September 2018, 12:13 IST

अगर आप भी अपनी मैरिड लाइफ खुशनुमा चाहते हैं तो इसकी शुरुआत सगाई से ही कर दें. शादी जैसे रिश्ते में खुशहाली के लिए इसकी नींव अब सगाई से ही रख सकते हैं. जमाना काफी बदल गया है. यही कारण है कि काफी समय से सगाई की अंगूठी को रिंग फिंगर में ही पहनाया जाता है. सगाई की अंगूठी का वर-वधु के लिए ख़ास महत्त्व होता है. सगाई की अंगूठी ऐसा जेवर है जिसे लोग सालों-साल पहने रहते हैं.

 

यही कारण है की अब सगाई की अंगूठी को भी वर वधु के गृह नक्षत्र के हिसाब से पहनने का रिवाज़ शुरू किया गया है. ऐसा इसलिए क्योंकि वर-वधू के नए जीवन में प्रवेश से पहले उनके ग्रह-नक्षत्र को भी बेहतर बनाने की कोशिश की जा रही है.

इसके लिए वर वधु की कुंडली के हिसाब से उनके लिए लाभदायक गृहों के हिसाब से रत्नों वाली अंगूठियां पहननाने का चलन शुरू किया गया है. इसके लिए कुंडली के आधार पर वर वधु के लिए लाभकारी रत्न का पता लगाया जाता है. और ज्योतिष के अनुसार वो रत्न किस उंगली में पहना जाएगा ये भी कुंडली के हिसाब से ज्योतिष बताएगा.

 अगर आप भी चाहते हैं कि आपका वैवाहिक जीवन सफल और खुशाहाल हो तो सगाई की अंगूठी को अपने गृहों के हिसाब से निर्धारित उंगली में पहने.

इसके लिए एंगेजमेंट में पंडित की सलाह के आधार पर अंगूठ‍ियां तैयार करवाई जाती है. ऐसे में सगाई की अंगूठी को लेफ्ट हैंड की रिंग फिंगर में पहनना जरुरी नहीं रह गया है.

 

 

मिलेंगी नयी वैराइटी
हीरे और सोने की अंगूठी के अलावा अब मूंगा, पन्ना, नीलम, मोती के अलावा उनके विकल्प के तौर पर यूज होने वाले ओपल, टोपॉज, रुबी जैसे रत्नों की भी रिंग बनवाई जा सकती है. ये रिंग पारम्परिक सोने की रिंग की तुलना में अधिक खूबसूरत होंगीं और अगर ज्योतिष की मैं तो ये रिंग्स पूरे जीवन को सुखद बनाने के लिए मददगार होंगी.

First published: 5 September 2018, 12:13 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी