Home » Lok Sabha Elections 2019 » BJP leads election advertisement expenditure on Google, Congress ranked sixth
 

Google विज्ञापनों पर खर्च करने के मामले में भी BJP सबसे आगे, कांग्रेस छठवें स्थान पर

कैच ब्यूरो | Updated on: 4 April 2019, 14:07 IST

भारतीय राजनीतिक दलों ने 19 फरवरी से Google पर 831 विज्ञापनों पर 3.76 करोड़ रुपये खर्च किए हैं, गुरुवार को जारी ट्रांसपेरेंसी रिपोर्ट में यह जानकारी दी गई है. इस रिपोर्ट के अनुसार भारतीय जनता पार्टी शीर्ष विज्ञापनदाता में पहले स्थान पर है. जनवरी में Google ने व्यापक सूचना प्रदान करने और Google प्लेटफार्मों पर चुनाव विज्ञापन के लिए अधिक पारदर्शिता लाने के लिए चुनाव विज्ञापन नीति की घोषणा की थी.

नीति के लिए विज्ञापनदाताओं को भारत के चुनाव आयोग द्वारा जारी “प्री-सर्टिफिकेट”, या पोल पैनल द्वारा अधिकृत कोई भी व्यक्ति, प्रत्येक विज्ञापन जो वे चलाना चाहते हैं, प्रदान करने की आवश्यकता होती है. रिपोर्ट के अनुसार राजनीतिक विज्ञापन पर खर्च करने के मामले में भाजपा सबसे आएगी रही. जिसने 554 विज्ञापनों के लिए 1.21 करोड़ रुपये खर्च किए. भाजपा ने अकेले Google पर कुल विज्ञापन खर्च का लगभग 32% खर्च किया.


दूसरे स्थान पर आंध्र प्रदेश की वाईएसआर कांग्रेस पार्टी रही, जिसने इस अवधि में 107 विज्ञापनों के लिए 1.04 करोड़ रुपये खर्च किए. जबकि तेलुगु देशम पार्टी और उसके प्रमुख चंद्रबाबू नायडू को बढ़ावा देने वाली प्रमनाया स्ट्रेटजी कंसल्टिंग प्राइवेट लिमिटेड 85.25 लाख रुपये के खर्च के साथ तीसरे स्थान पर रही, नायडू को बढ़ावा देने वाली एक अन्य इकाई, डिजिटल कंसल्टिंग प्राइवेट लिमिटेड 63.43 लाख रुपये के कुल खर्च के साथ चौथे स्थान पर रही.

ट्रंप को फिर आया भारत पर गुस्सा, कहा- मुझे पीएम मोदी का फोन आया... ये बात ठीक नहीं

गौरतलब है कि आंध्र प्रदेश में लोकसभा चुनाव के साथ विधानसभा चुनाव भी होंगे. हालांकि कांग्रेस ने 14 विज्ञापनों के लिए सभी Google प्लेटफार्मों पर केवल 54,100 रुपये खर्च किए हैं. Google ने कहा कि उसने अपनी विज्ञापन नीति के उल्लंघन के कारण 11 राजनीतिक विज्ञापनदाताओं में से चार के विज्ञापनों को रोक कर दिया है, जिसमें एथिनो डिजिटल मार्केटिंग प्राइवेट लिमिटेड भी शामिल है, जो सूची में पांचवें स्थान पर रही.

'दुनियाभर में वायु प्रदूषण से होने वाली आधी मौतों के लिए भारत और चीन हैं जिम्मेदार'

First published: 4 April 2019, 14:07 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी