Home » Lok Sabha Elections 2019 » Computer Baba Hat Yoga campaigns for Congress leader Digvijaya Singh
 

दिग्विजय के प्रचार में उतरे बीजेपी से मंत्री का दर्जा पाने वाले कंप्यूटर बाबा, कहा- मंदिर नहीं तो मोदी नहीं

कैच ब्यूरो | Updated on: 7 May 2019, 12:15 IST

भोपाल लोकसभा सीट पर कांग्रेस उम्मीदवार दिग्विजय सिंह और भाजपा की साध्वी प्रज्ञा के बीच मुकाबला है. ऐसे में साधु संतों का एक बड़ा समूह कांग्रेस प्रत्याशी के प्रचार में दिखाई दे रहा है. मध्यप्रदेश की भाजपा सरकार ने जिस कम्प्यूटर बाबा को मंत्री का दर्जा दिया था उसे कांग्रेस ने स्टार प्रचारक बनाया है. 

एएनआई के अनुसार मंगलवार को कंप्यूटर बाबा ने दिग्विजय सिंह के लिए मंगलवार को हजारों साधुओं के साथ हठ योग अभियान शुरू किया. वह बोले ''भोपाल में धर्म और अधर्म की लड़ाई हो रही है. साधु के कपड़े पहनने या भेष बनाने से कोई साधु नहीं हो जाता. रावण ने भी साधु का वेश धारण कर सीता का हरण किया था. कर्म करने से कोई साधु होता है, चुनाव लड़ने से नहीं. भाजपा नेताओं ने साध्वी प्रज्ञा को बलि का बकरा बनाया है''.

बाबा ने कहा कि भाजपा सरकार पांच साल में राम मंदिर भी नहीं बना पायी. अब राम मंदिर नहीं तो मोदी भी नहीं. एक रिपोर्ट के अनुसार कंप्यूटर बाबा ने साध्वी प्रज्ञा पर भी जमकर निशाना साधा. बाबा ने साध्वी प्रज्ञा ठाकुर की तुलना रावण से की. 

न्यूज़ 18 की रिपोर्ट के अनुसार कंप्यूटर बाबा ने कहा कि ''भाजपा सरकार खुद धर्म विरोधी है. उन्होंने कहा हम नर्मदा को बचाने के लिए भाजपा में गए थे लेकिन सरकार ने साथ नहीं दिया''. चुनावों से पहले दिग्विजय सिंह ने नर्मदा यात्रा की थी, जिसके बाद साधु- संतों का समर्थन दिग्विजय सिंह को मिलता दिखाई दे रहा है.

हिजबुल कमांडर बुरहान के गांव में किसी ने नहीं डाला वोट, पुलवामा के गांव में डाले गए सिर्फ इतने वोट

First published: 7 May 2019, 12:07 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी