Home » Lok Sabha Elections 2019 » lok sabha chunav 2019 this assam village is missing from electoral map
 

आजादी से अबतक चुनावी मानचित्र से गायब है ये गांव, राजनीतिक चर्चाओं से कोसों दूर

कैच ब्यूरो | Updated on: 18 May 2019, 10:13 IST

लोकसभा चुनाव 2019 का कल यानि रविवार को आखिरी चरण का चुनाव होने जा रहा है. देश की अधिकतर जनता अपने मत का प्रयोग बढ़ चढ़ कर कर रहे हैं. ऐसे में हमारे देश का एक ऐसा गांव हैं, जो चुनावी मानचित्र में कहीं भी शामिल नहीं है.

ये गांव उत्तर पूर्वी हिस्से में असम और मेघालय की सीमा पर एक घने जंगलों के बीच बसा हुआ है. इस गांव को आजादी के बाद से अबतक चुनावी मानचित्र में शामिल ही नहीं किया गया है. ये बात बेहद ही चौंकाने वाली है, लेकिन सच है. इस गांव का नाम लोंगटुरी है, जो असम के गुवाहाटी जिसे से करीब 90 किलोमीटर की दूरी पर घने जंगलों में स्थित है.

एक ओर जहां पूरे देश में चुनावी हलचल मची हुई हैं. तो वहीं, दूसरी ओर इस गांव में चुनावी हलचल और चर्चाएं काफी दूर है. यहां ना को किसी तरह की राजनीतिक चर्चाएं चल रही हैं और ना ही किसी तरह की कोई चुनावी सभाएं और पोस्टर्स लगाए जा रहे हैं. चुनावी शोरगुल से ये गांव काफी दूर नजर आ रहा है.

इस गांव में 25 परिवार रहते हैं, जो अबतक चुनावी मानचित्र में कहीं भी शामिल नहीं हुए हैं. आश्चर्य की बात ये है कि इस गांव के निवासी कई बार कामरूप जिले के चुनावी ऑफिस में शिकायत कर चुके हैं, लेकिन अबतक अधिकारियों की ओर से किसी भी तरह का कदम नहीं उठाया गया है. अब तो यहां के लोगों का ये हाल है कि इन्होंने वोट करने की उम्मीद ही छोड़ दी है.

यहां वोट डालना है अनिवार्य, नहीं डालने पर देना पड़ता है 1000 का जुर्माना

First published: 18 May 2019, 10:13 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी