Home » Lok Sabha Elections 2019 » Lok Sabha elections 2019: Opposition lays ground to make quick claim if NDA tally falls short
 

Lok Sabha elections 2019 : कांग्रेस कर रही है सरकार बनाने की तैयारी ?

कैच ब्यूरो | Updated on: 22 May 2019, 14:06 IST

चुनाव के परिणामों के बाद अक्सर सबसे बड़ी पार्टी सरकार बनाने के लिए राष्ट्रपति का इंतज़ार करते हैं. लेकिन बार एनडीए या यूपीए को पूर्ण बहुमत नहीं मिलने की स्थिति में दोनों पक्ष राष्ट्रपति के पास जाने की तैयारी में जुट गए हैं. पिछले हफ्ते कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी, कोषाध्यक्ष अहमद पटेल, और वरिष्ठ नेता अभिषेक सिंघवी सहित वरिष्ठ नेताओं ने परिणाम के दिन की योजना तैयार करने के लिए राहुल गांधी के निवास पर बैठक की. हिंदुस्तान टाइम्स की एक रिपोर्ट पार्टी की कानूनी टीम ने एक ड्राफ्ट भी तैयार किया है.

साथ ही पार्टी ने यह भी रणनीति बनाई है कि कैसे गैर एनडीए सरकार बनने की स्थिति में बहुमत हसिल किया जा सकता है. रिपोर्ट के अनुसार कांग्रेस के एक वरिष्ठ नेता ने कहा "त्रिशंकु संसद की संभावना में हम राष्ट्रपति राम नाथ कोविंद से जल्द से जल्द अवसर पर संवाद कर सकते हैं. अगर एनडीए बहुमत से कम रहता है तो हम कर्नाटक मॉडल और हिस्सेदारी के दावे को दोहरा सकते हैं. हालांकि, अंतिम आह्वान यूपीए प्रमुख सोनिया गांधी और राहुल गांधी द्वारा लिया जाएगा.''

इससे पहले कर्नाटक में कांग्रेस ने तेजी दिखाते हुए जेडी (एस) को कुर्सी देते हुए राज्यपाल का रुख किया था. आम तौर पर पार्टियां राष्ट्रपति का इंतजार करती हैं, चुनाव आयोग (ईसी) द्वारा अधिसूचित होने के बाद, सरकार बनाने के लिए पार्टियों के सबसे बड़े समूह या एकल-सबसे बड़ी पार्टी को सरकार बनाने के लिए बुलाया जाता है.

इस बार भाजपा का मुकाबला करने के लिए, कांग्रेस के नेतृत्व वाला विपक्ष दावे को दांव पर लगा रहा है. 2004 में राष्ट्रपति एपीजे अब्दुल कलाम ने कांग्रेस प्रमुख सोनिया गांधी को संसदीय चुनावों के बाद सरकार बनाने के लिए आमंत्रित किया था. 145 सीटों के साथ कांग्रेस को बीजेपी पर तरजीह मिली, जिसमें 138 सीटें थीं.

वोटिंग के बाद ऐसे रखी जाती है EVM, जानिए छेड़छाड़ संभव है या नहीं ?

First published: 22 May 2019, 13:59 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी