Home » Lok Sabha Elections 2019 » Ram Madhav says BJP may need allies to reach majority mark
 

चुनाव से पहले ही राम माधव ने माना- BJP को पड़ सकती है पूर्ण बहुमत के लिए सहयोगियों की जरूरत

कैच ब्यूरो | Updated on: 6 May 2019, 14:27 IST

बीजेपी के वरिष्ठ नेता और राष्ट्रीय महासचिव राम माधव का कहना है कि आगामी लोकसभा चुनाव के बाद सरकार बनाने के लिए बीजेपी को अन्य पार्टियों की जरूरत पड़ सकती है. हालांकि बीजेपी के कई नेता यह दावा कर रहे हैं कि बीजेपी पूर्ण बहुमत के साथ सत्ता में आएगी. माधव ने न्यूज़ वेबसाइट ब्लूमबर्ग के साथ इंटरव्यू में यह बात कही.

उन्होंने कहा "अगर हमें अपने दम पर 271 सीटें मिलती हैं, तो हमें बहुत खुशी होगी. हालांकि उन्होंने कहा भी कहा कि पिछली बार हमने जो हासिल किया था, हो सकता है कि हम एंटी-इनकंबेंसी की वजह से न दोहराएं. माधव ने कहा कि पार्टी 2014 में पूर्वोत्तर से लेकर पश्चिम बंगाल और ओडिशा में ज्यादा लाभ नहीं हासिल कर पायी थी. उन्होंने कहा कि अगर सत्ता में वापसी होती है, तो वह विकास-समर्थक नीतियों को आगे बढ़ाएंगे.

2014 के लोकसभा चुनावों में मोदी के नेतृत्व वाली पार्टी ने हिंदी भाषी बेल्ट में जबरदस्त जीत हासिल की थी. हरियाणा, उत्तर प्रदेश, राजस्थान, हिमाचल प्रदेश, उत्तराखंड, मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़, झारखंड, बिहार, चंडीगढ़ और दिल्ली के राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र (NCR) में कुल 226 संसदीय सीटें हैं. पिछले संसदीय चुनाव में भाजपा ने इनमें से 191 सीटें जीती थीं. एनडीए के उसके सहयोगियों ने वहां 11 सीटें जीतीं थी.

प्रधानमंत्री मोदी भी अपनी रैलियों में कई बार जीत का दावा कर चुके हैं. पीएम मोदी ने वाराणसी में दावा किया था कि यह पहले ही तय हो गया है कि वह चुनाव जीत जायेंगे. भदोही में उत्तर प्रदेश के उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने कहा "2014 मोदी लहर थी. 2019 मोदी की सुनामी है. कमल पर आपके वोट का मतलब आतंकवादी शिविरों पर 1,000 किलोग्राम बम गिराना होगा," 

लोकसभा चुनाव: यहां है कांटे की टक्कर, दोनों ओलंपियन लेकिन मुद्दे अलग-अलग

First published: 6 May 2019, 14:10 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी