Home » Lok Sabha Elections 2019 » SP leader and Rampur candidates Azam Khan remark on Jaya Prada
 

जया प्रदा को लेकर दिए बयान से पलटे आजम खान, कहा- दोषी साबित होने पर नहीं लडूंगा चुनाव

कैच ब्यूरो | Updated on: 15 April 2019, 8:42 IST

सपा नेता और रामपुर से महागठबंधन के प्रत्याशी आजम खान जया प्रदा को लेकर दिए अपने बयान से पलट गए हैं. उन्होंने इस बात से इंकान किया कि उन्होंने अपने बयान में किसी का नाम लियाउन्होंने कहा कि मुझे पता है मुझे क्या कहना चाहिए. यही नहीं उन्होंने अपने बयान में किसी का नाम लेने की बात को साबित करने पर चुनाव ना लड़ने की बात कही.

सपा नेता आजम खान ने कहा कि, "मैं दिल्ली के एक व्यक्ति का जिक्र कर रहा था जो अस्वस्थ है, जिसने कहा था, मैं 150 राइफलें लेकर आया था और अगर मैंने आजम को देखा होता तो मैं उसे गोली मार देता.” उन्होंने कहा कि, "लोगों को जानने में काफी समय लगा और बाद में पता चला कि वह आरएसएस शॉर्ट्स पहने हुए था."

बता दें कि, आजम खान ने रामपुर में एक आपत्तिजनक बयान दिया था, जिसमें उन्होंने कहा था कि, "जिसको हम उंगली पकड़कर रामपुर लाए, आपने 10 साल जिनसे प्रतिनिधित्व कराया...उसकी असलियत समझने में आपको 17 साल लगे, मैं 17 दिन में पहचान गया कि इनका अंडरवियर खाकी रंग का है.”

यही नहीं उन्होंने आगे कहा था, "मैं जनसभा में मौजूद सभी लोगों से सवाल करता हूं कि क्या राजनीति इतनी गिर जाएगी कि 10 बरस जिसने रामपुर वालों का खून पीया, जिसे उंगली पकड़कर हम रामपुर में लेकर आए. जिसका हमने पूरा ख्याल रखा. उसने हमारे ऊपर क्या-क्या आरोप नहीं लगाए.”

बता दें कि जया प्रज्ञा बीजेपी के टिकट पर रामपुर से चुनाव लड़ रही हैं. यहीं से सपा के टिकट पर आजम खान भी चुनावी मैदान में हैं. आजम खान के इस बयान को जया प्रदा से जोड़ा गया था. उसके बाद आजम खान के इस बयान को गंभीरता से लेते हुए राष्ट्रीय महिला आयोग ने उन्हें नोटिसा भेजने का फैसला किया है.

मेनका गांधी ने फिर धमकी भरे लहजे में मांगे वोट, अब वोटर्स को समझाया ABCD का गणित

First published: 15 April 2019, 8:42 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी