Home » Lok Sabha Elections 2019 » Supreme Court rejects review plea filed by twenty-one Opposition parties seeking a direction to increase VVPAT
 

VVPAT पर विपक्ष की याचिका सुप्रीम कोर्ट ने की खारिज, कहा- एक मामला बार-बार क्यों सुनें

कैच ब्यूरो | Updated on: 7 May 2019, 11:11 IST

EVM और VVPAT की पर्चियों की मिलान को लेकर मंगलवार को सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई हुई. सुपर्रीम कोर्ट ने विपक्ष की दाखिल की गई पुनर्विचार याचिका को खारिज कर दिया. 

याचिका की सुनवाई के दौरान CJI रंजन गोगोई ने कहा, "अदालत इस मामले को बार-बार क्यों सुने." उन्होंने कहा, "वह इस मामले में दखलअंदाजी नहीं करना चाहते हैं." 


बता दें कि विपक्षी पार्टियों द्वारा 50 फीसदी वीवीपैट (VVPAT) की पर्चियों की ईवीएम से मिलान की मांग की गई थी. सुप्रीम कोर्ट की सुनवाई के दौरान वहां डी. राजा, चंद्रबाबू नायडू, संजय सिंह और फारूक अब्दुल्ला अदालत में मौजूद रहे.

भारतीय सेना की बढ़ेगी ताकत, दुश्मन को मात देने के लिए सैन्य बेड़े में शामिल होंगे T-90 भीष्म टैंक

First published: 7 May 2019, 11:11 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी