Home » मध्य प्रदेश » After Yogi, Shivraj singh chahuhan told, we can not premit eligle slater house in MP
 

अब शिवराज बोले, मध्य प्रदेश में भी बंद होंगे अवैध बूचड़खाने

कैच ब्यूरो | Updated on: 8 May 2017, 12:07 IST
Shivraj singh chauhan

मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने रविवार को धार में जैन मुनि की मौजूदगी में कहा कि राज्य में अवैध बूचड़खानों को नहीं चलने दिया जाएगा.

धार जिले के मोहनखेड़ा में मुनिश्री ऋषभ चंद्रविजय विद्यार्थी के 'आचार्य पद पट्टाभिषेक महा-महोत्सव कार्यक्रम' में रविवार को मुख्यमंत्री चौहान ने कहा, "जैन धर्म ने 'जियो और जीने दो' का मूल-मंत्र दिया है. जीवों के प्रति दया का भाव और अहिंसा का संदेश दिया है. हम सभी इसे आत्मसात करें और जीवों के प्रति दया का भाव रखें. इन्हीं विचारों को ध्यान में रखते हुए प्रदेश की धरती पर कोई भी अवैध बूचड़खाना नहीं चलने दिया जाएगा."

उन्होंने कहा कि मोहनखेड़ा तीर्थ में मानव सेवा के लिए अखंड व्रत चलता है. यहां शिक्षा, संस्कार, चिकित्सा, जल संरक्षण, गौ-सेवा, पीड़ित और शोषित वर्गों के लोगों के कल्याण के लिए विशेष प्रकल्प चलाए जाते हैं. मुख्यमंत्री चौहान ने कहा कि 'नमामि देवि नर्मदे' सेवा यात्रा के जरिए प्रदेश में नदियों के संरक्षण, पर्यावरण सुधार, जल-संरक्षण के प्रयासों के साथ ही बेटियों को बचाने का महाअभियान चलाया जा रहा है. बेटियों के बिना सृष्टि नहीं चल सकती है, बेटियां हैं, तो कल है.

मुख्यमंत्री चौहान ने कहा कि आचार्य ऋषभचंद्र विजय को राजकीय अतिथि का दर्जा प्रदान किया जाएगा. उन्होंने आचार्य से अनुरोध किया कि वे संपूर्ण प्रदेश का भ्रमण कर पीड़ित मानवता की सेवा के लिए मोहनखेड़ा तीर्थ द्वारा चलाए जा रहे प्रकल्पों को जन-जन तक पहुंचाएं. पट्टाभिषेक कार्यक्रम में आचार्य ने अवैध बूचड़खाने बंद किए जाने की घोषणा पर मुख्यमंत्री को साधुवाद दिया. उन्होंने बेटी बचाओ अभियान के प्रति भी अपना समर्थन व्यक्त किया.

कार्यक्रम में केंद्रीय सामाजिक न्याय और अधिकारिता मंत्री थावरचंद गहलोत, प्रदेश की खेल एवं युवा कल्याण मंत्री यशोधरा राजे सिंधिया, पूर्व मंत्री कैलाश विजयवर्गीय, सांसद सावित्री ठाकुर, पूर्व केंद्रीय मंत्री विक्रम वर्मा सहित अन्य वरिष्ठ पदाधिकारी और नागरिक मौजूद थे.

First published: 8 May 2017, 10:10 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी