Home » मध्य प्रदेश » CM Kamal Nath Announced Madhya Pradesh Government Will Built Temple of Mata Sita in Sri Lanka
 

अयोध्या में राम मंदिर के बाद अब यहां बनेगा माता सीता का भव्य मंदिर, MP सरकार ने किया ऐलान

कैच ब्यूरो | Updated on: 28 January 2020, 10:10 IST
(प्रतीकात्मक फोटो)

Madhya Pradesh Chief Minister Kamal Nath: अयोध्या (Ayodhya) में भगवान राम का भव्य मंदिर (Ram Mandir) बनने का रास्ता साफ हो गया है. मंदिर निर्माण ट्रस्ट बनने का बाद राम मंदिर का निर्माण शुरु हो जाएगा. अब मध्य प्रदेश सरकार (Madhya Pradesh Government) ने माता सीता का मंदिर (Mata Sita Mandir) के निर्माण की घोषणा की है. सोमवार (Monday) को मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री कमल नाथ (Chief Minister Kamal Nath) ने कहा कि सूबे की सरकार श्रीलंका (Sri Lanka) में माता सीता का भव्य मंदिर बनवाएगी.

सीएम कमल नाथ (CM Kamal Nath) ने कहा कि शीघ्र ही योजना बनाने और उसका क्रियान्वयन किया जाएगा. कमल नाथ ने कहा कि मंदिर के डिजाइन को अंतिम रूप दिया जाए और इसके लिये इसी वित्त वर्ष में आवश्यक धन राशि भी उपलब्ध करवाई जाए.

मध्य प्रदेश जनसंपर्क विभाग की विज्ञप्ति के मुताबिक, "मुख्यमंत्री कमलनाथ ने कहा है कि श्रीलंका में माता सीता का भव्य मंदिर बनवाया जाएगा. उन्होंने निर्देश दिए हैं कि इसके लिए शीघ्र एक समिति बनाएं, जिसमें मध्य प्रदेश व श्रीलंका सरकार के अधिकारियों के साथ महाबोधि सोसायटी के सदस्य भी शामिल हों." उन्होंने कहा कि यह समिति मंदिर निर्माण के कार्यों पर नजर रखेगी, जिससे समय सीमा के अंदर मंदिर का निर्माण हो सके.

बता दें कि सोमवार को सीएम कमलनाथ मंत्रालय ने मध्य प्रदेश के जनसंपर्क मंत्री पीसी शर्मा के नेतृत्व में पहुंचे प्रतिनिधिमंडल के साथ बैठक की. इस बैठक में महाबोधि सोसायटी के अध्यक्ष बनागला उपतिसा भी उपस्थित रहे. इस दौरान मुख्यमंत्री कमल नाथ ने भोपाल के निकट सांची में बौद्ध संग्रहालय, अध्ययन व प्रशिक्षण केंद्र बनाने के लिए आवश्यक भूमि आवंटित करने के साथ यहां अंतर्राष्ट्रीय स्तर का संस्थान बनाने की बात कही. उन्होंने कहा कि इसके लिए शीघ्र ही कार्य योजना बनाई जाएगी.

गौरतलब है कि जनसंपर्क मंत्री शर्मा ने हाल ही में श्रीलंका यात्रा के दौरान सीता मंदिर के निर्माण के संबंध में वहां की सरकार से चर्चा की थी. शर्मा ने कहा कि अगर बेहतर वायु सेवा उपलब्ध हो, तो श्रीलंका सहित बौद्ध धर्म को मानने वाले अन्य देशों में रह रहे श्रद्धालुओं को सांची आने में सुविधा होगी. बता दें कि साल 2012 में मध्य प्रदेश के तत्कालीन मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के साथ श्रीलंका के तत्कालीन राष्ट्रपति महिंदा राजपक्षे ने सांची में बौद्ध विश्वविद्यालय की आधारशिला रखी थी. इस दौरान सीएम शिवराज सिंह चौहान ने राजपक्षे से श्रीलंका में माता सीता मंदिर के निर्माण का प्रस्ताव रखा था.

मध्य प्रदेश: कांग्रेस राज में दलित युवक को जलाया गया जिंदा, BJP मंगलवार को करेगी प्रदर्शन

Coronavirus: केरल के CM विजयन का मोदी को पत्र, कहा- वुहान के लिए करें स्पेशल फ्लाइट की व्यवस्था

बोडोलैंड विवाद: 50 साल पुराने विवाद में 2823 लोगों ने गंवाई जान, मोदी सरकार में हुआ बड़ा काम

First published: 28 January 2020, 10:10 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी