Home » मध्य प्रदेश » Flood in Madhya Pradesh, CM Shivraj Singh Chouhan spoke PM Modi about flood situation in the state
 

मध्य प्रदेश में बाढ़ से खराब हुए हालात, पीएम मोदी से सीएम शिवराज सिंह चौहान ने की बात

कैच ब्यूरो | Updated on: 30 August 2020, 11:27 IST

मध्य प्रदेश (MP) के कई जिलों में भारी बारिश (Heavy Rain) के बाद आई बाढ़ (Flood) से हालात खराब हो गए हैं. इस बाढ़ में हजारों लोग प्रभावित हुए हैं. सूबे में बाढ़ से बिगड़ रहे हालातों के बीच राज्य के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (CM Shivraj Singh Chouhan) ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) से बात की. इस दौरान सीएम चौहान ने पीएम को राज्य में बाढ़ के हालातों के बारे में जानकारी दी. सीएम चौहान ने कहा, "मध्य प्रदेश के नौ जिलों के 394 से ज्यादा गांवों में बाढ़ ने तबाही मचाई है. अब तक 7000 से अधिक लोगों को बचाकर सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाया गया है.

छिंदवाड़ा में बाढ़ में फंसे 5 लोगों को हेलीकॉप्टर से एयरलिफ्ट किया गया है. वायुसेना के दो हलीकॉप्टर होशंगाबाद, सीहोर और रायसेन के लिए आने वाले थे लेकिन खराब मौसम के कारण उन्हें रास्ते से ही वापस लौटना पड़ा. उसके बाद एक को झांसी और दुसरे को नागपुर भेजा गया है. हमने और अतिरिक्त हेलीकॉप्टर वायुसेना से मांगे हैं. एनडीआरएफ और एसडीआरएफ की टीमें पूरी तरह से लगी हुई हैं." बता दें कि मध्य प्रदेश में पिछले दो दिन से मूसलाधार बारिश हो रही है. जिसके चलते होशंगाबाद सहित मध्य प्रदेश के कई जिलों में बाढ़ आ गई है.


प्रदेश में स्थिति इतनी विकराल हो गई है कि जलमग्न क्षेत्रों से लोगों को बचाने के लिए शनिवार को सेना और एनडीआरएफ को मोर्चा संभलना पड़ा. होशंगाबाद जिले में करीब 3,500 लोगों को सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाया गया है जबकि छिंदवाड़ा में वायुसेना के एक हेलीकाप्टर से बाढ़ में फंसे पांच लोगों को सुरक्षित निकल लिया गया है. अधिकारियों के मुताबिक, प्रदेश के सीहोर और छिंदवाड़ा समेत सात से अधिक जिलों में भारी बारिश के कारण तालाब और नदी, नाले उफान पर हैं.

कोरोना संकट के बीच ममता सरकार ने रेलवे बोर्ड को लिखा पत्र, मेट्रो सेवा शुरू करने की कही बात

अधिकारियों के मुताबिक, मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने शनिवार को लगभग डेढ़ घंटे तक नर्मदा नदी के तट पर बसे होशंगाबाद तथा सीहोर जिलों के बाढ़ ग्रस्त इलाकों का हवाई सर्वेक्षण किया. मुख्यमंत्री के प्रमुख सचिव मनीष रस्तोगी ने बताया कि छिंदवाड़ा जिले में एक जलमग्न जगह से पांच लोगों को वायुसेना के हेलिकॉप्टर से बचाया गया.

जम्मू-कश्मीरः श्रीनगर एनकाउंटर में सुरक्षाबलों ने तीन आतंकियों को किया ढेर, एक पुलिसकर्मी शहीद

रस्तोगी के मुताबिक, सीहोर जिले में बचाव कार्यों में सहायता के लिए वायुसेना के दो हेलीकाप्टर और आ रहे हैं. उन्होंने बताया कि, इसके अलावा 70 जवानों वाली सेना की दो टुकड़ियां सहायता के लिए आ रही हैं. इनमें से एक टुकड़ी रात तक होशंगाबाद जिले में पहुंच जाएगी, जबकि एक टुकड़ी को रायसेन जिले के बाढ़ग्रस्त इलाकों में मदद के लिए लगाया जाएगा.

Mann Ki Baat: पीएम मोदी आज सुबह 11 बजे 'मन की बात' कार्यक्रम के जरिए 68वीं बार करेंगे देश को संबोधित

उन्होंने बताया कि हरदा जिले में भी कई स्थानों पर नर्मदा नदी खतरे के निशान से ऊपर बह रही है. पिछले 12 से 15 घंटे में 9 जिलों के 394 गांवों के 6500 से अधिक लोगों को सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाया गया है. गृह विभाग के अपर मुख्य सचिव राजेश राजोरा ने बताया कि बाढ़ में फंसे लोगों को निकालने के लिए सरकारी तंत्र कड़ी मेहनत कर रहा है. भारत मौसम विज्ञान विभाग (IMD) ने बताया कि होशंगाबाद में पिछले 24 घंटों में शनिवार सुबह 8.30 बजे तक 208 मिमी बारिश दर्ज की गई.

Unlock 4: 7 सितंबर से चलेगी दिल्ली मेट्रो, गृह मंत्रालय ने जारी की नई गाइडलाइंस, ये हैं नए नियम

मध्य प्रदेश के अष्टा में भारी बारिश के चलते एक इमारत गिर गई. जिसके मलबे में दबकर एक शख्स की मौत हो गई और तीन लोग घायल हो गए. घायलों को नजदीकी अस्पताल में भर्ती कराया गया है.

COVID-19 Updates: दुनियाभर में मरने वालों का आंकड़ा आठ लाख 46 हजार के पार, 2.51 करोड़ से ज्यादा संक्रमित

First published: 30 August 2020, 11:27 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी