Home » मध्य प्रदेश » Madhya Pradesh: 9 farmers commits suicide with in 8 days
 

MP: शिव'राज' में हाहाकार, 8 दिन में 9 किसानों ने की ख़ुदकुशी

कैच ब्यूरो | Updated on: 16 June 2017, 12:56 IST

मध्य प्रदेश में किसानों की ख़ुदकुशी का सिलसिला नहीं थम रहा है. होशंगाबाद में कीटनाशक पीने के बाद अब सीहोर ज़िले में किसान ने जान दे दी है. दोनों ज़िलों में ख़ुदकुशी की वजह किसानों पर कर्ज़ का बोझ था, जिसे चुकाना मुश्किल होता जा रहा था. 8 जून के बाद से किसान कमोबेश हर दिन आत्महत्या कर रहे हैं.

मध्य प्रदेश में किसान आंदोलन की आग 6 जून के बाद से तेज़ हो गई है और हर दिन कहीं ना कहीं से किसानों की ख़ुदकुशी की ख़बरें आना शुरू हो गई हैं. 6 जून को मंदसौर में पुलिस फायरिंग में 5 किसानों की मौत हुई थी.

बुधवार को होशंगाबाद ज़िले के किसान नर्मदा प्रसाद ने कीटनाशक पीकर ख़ुदकुशी कर ली थी. कहा जा रहा है कि एक सूदखोर प्रभाकर राव पैसे मांगने के लिए उनके घर पहुंच गया था.

इसी तरह सीहोर में 70 साल के बुज़ुर्ग किसान खाजू खां भी खेत के पास पलाश के पेड़ पर फंदा लगाकर झूल गए. इनके बेटे ने कहा कि खाद-बीज का इंतज़ाम नहीं होने के कारण वो काफी परेशान चल रहे थे.

First published: 16 June 2017, 12:56 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी