Home » मध्य प्रदेश » Madhya pradesh: 9 Year old girl accused gets death sentence withing 46 days by Sagar court
 

मध्य प्रदेश: 46 दिन बाद कोर्ट ने रेप आरोपी को सुनाई मौत की सजा

कैच ब्यूरो | Updated on: 8 July 2018, 13:13 IST
(सांकेतिक फोटो)

मध्य प्रदेश के सागर जिले में नाबालिक लड़की के साथ रेप के आरोपी को कोर्ट ने मौत की सजा सुनाई है. कोर्ट ने रेप के आरोपी खमरिया निवासी आरोपी भग्गी उर्फ भगीरथ को मौत की सजा सुनाई है. कोर्ट ने इस मामले में ट्रायल महज 46 दिनों में पूरा कर अपना फैसला सुनाया है.

जानकारी के अनुसार, 46 दिन के ट्रायल के बाद शनिवार को रहली के सत्र न्यायालय के एडीजे सुधांशु सक्सेना ने आरोपी भग्गी उर्फ भगीरथ को दोषी पाते हुए फांसी की सजा सुनाई है.

 कोर्ट द्वारा आरोपी को सजा की सजा का ऐलान होने के बाद सीएम शिवराज सिंह ने ट्वीट कर फैसले का स्वागत किया है. उन्होंने लिखा, 'सागर में मासूम बेटी से दुष्कर्म के आरोपी को फांसी की सजा मिली है। मैं कोर्ट के फैसले का स्वागत करता हूं. मेरा हमेशा से मानना रहा है कि ऐसे नरपिशाचों के लिए सभ्य समाज में कोई जगह नहीं है. त्वरित जांच पूरी कर सिर्फ 46 दिनों में दुष्कर्मी को कड़ी सजा दिलाने के लिए पुलिस दल का आभार.

गौरतलब है कि इसी साल (2018) 21 मई को भग्गी उर्फ भगीरथ ने एक 9 साल की बच्ची के साथ रेप की घटना को अंजाम दिया था. इस मामले में पुलिस ने आरोपी के खिलाफ 250/18 धारा 376ए, 376बी, 366 आईपीसी, 3, 4, 5 पॉक्सो ऐक्ट के तहत केस दर्ज किया था. मामला सामने आने के बाद थाना प्रभारी निरीक्षक राम अवतार ने 72 घंटे के अंदर विवेचना पूरी कर दी थी. इसके बाद 24 मई 2018 को न्यायालय में चालान पेश कर दिया. 

ये भी पढ़ें- MP: रेप के मामले में सबसे तेज फैसला, अदालत ने महज इतने दिन में सुनाई मौत की सजा

First published: 8 July 2018, 13:13 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी