Home » मध्य प्रदेश » Madhya pradesh assembly elections: MP govt 58 officers fail to clear poll panels test for poll duty
 

मध्य प्रदेश: चुनाव आयोग की निष्पक्ष चुनाव के लिए आयोजित आंकलन परीक्षा में 58 प्रतिशत अधिकारी फेल

कैच ब्यूरो | Updated on: 11 September 2018, 17:43 IST
(प्रतीकात्मक फोटो )

मध्य प्रदेश, राजस्थान, छत्तीसगढ़ सहित कुछ राज्यों में इस साल के आखिरी में विधानसभा के चुनाव होने है. इसको लेकर राजनीतिक गलियारों में सरगर्मी तेज हो गई है. इसके साथ ही चुनाव आयोग भी आगामी विधानसभा चुनावों को लेकर अपनी तैयारी में जुटा है. विधानसभा चुनाव कराने के लिए आधिकारियों को तैयार किया जा रहा है. चुनाव आयोग ने मध्य प्रदेश विधानसभा चुनाव से पहले अधिकारियों की तैयारी के आंकलन के लिए एक परीक्षा आयोजित कराई . लेकिन आपको जानकर हैरानी होगी कि इस परीक्षा में 58 प्रतिशत अधिकारी फेल हो गए.

मीडिया खबरों के अनुसार, चुनाव आयोग ने 18 अगस्त को चुनाव रिटर्निंग और सहायक रिटर्निंग अधिकारियों के लिए एक लिखित परीक्षा का आयोजन किया था. अगर किसी पार्टी की तरफ से दो उम्मीदवार नामांकन पर्चा दाखिल करते हैं तो किसे आधिकारिक उम्मीदवार माना जाएगा? किसी उम्मीदवार की जमानत कब जब्त होती है? अगर किसी व्यक्ति को निचली अदालत से तीन साल की सजा मिली है और हाई कोर्ट ने उसे जमानत दे दी है तो क्या वह चुनाव लड़ सकता है? इस तरह के सवाल पूछे गए थे. परीक्षा में कुल 561 अधिकारियों ने हिस्सा लिया था. इसमें से केवल 238 ही अधिकारी ही परीक्षा पास कर सके.

राज्य के मुख्य निर्वाचन अधिकारी वीएल कांताराव ने बताया कि एक बार फिर से परीक्षा आयोजित कराई जाएगी. दूसरी बार परीक्षा में फेल होने वाले अधिकारियों को चुनाव संबंधी कार्यों से हटा दिया जाएगा. इसके साथ ही राज्य चुनाव आयोग द्वारा परीक्षा में फेल होने वाले अधिकारियों के खिलाफ राज्य सरकार से सख्त कार्रवाई करने की मांग की है.

ये भी पढ़ें-  31 जनवरी से पहले नहीं होंगे लोकसभा चुनाव, चुनाव आयोग ने कयासों पर लगाया ब्रेक

First published: 11 September 2018, 17:43 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी