Home » मध्य प्रदेश » Madhya Pradesh: Bridge collaps of kuno river after three months of inaugration
 

Video: मोदी सरकार के मंत्री ने 3 महीने पहले किया था उद्धाटन, पहली बारिश में ही बह गया यह पुल

कैच ब्यूरो | Updated on: 11 September 2018, 15:00 IST

मध्य प्रदेश में मोदी सरकार के मंत्री ने एक पुल का उद्घाटन तीन महीने पहले किया था. तीन महीने बाद वह पुल ढह गया है. पुल को बनाने में 7.78 करोड़ रुपए खर्च कर दिए गए थे. आश्चर्य की बात है कि इस पुल के उद्घाटन के समय इसे विकास का मॉडल बताते हुए कई बड़े-बड़े दावे किए गए थे. हालांकि अब ये दावे पहली मूसलाधार बारिश में ही धरे के धरे रह गए.

मध्यप्रदेश के शिवपुरी जिले की पोहरी तहसील में कई करोड़ की लागत से कूनो नदी पर बना यह पुल पहली बारिश में ही बह गया. इसका उद्घाटन तीन महीने पहले मोदी सरकार के मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने किया था. 29 मई 2018 को तोमर ने इसका लोकार्पण किया था. अभी तीन महीने ही हुए हैं और लोकार्पण के कुछ ही महीनों में पुल ही बह गया. 

बता दें कि इस पुल के निर्माण के समय ही स्थानीय विधायक प्रहलाद भारती ने इसके बनने में भ्रष्टाचार के आरोप लगाए थे, लेकिन सत्तारुढ़ पार्टी के विधायक होने के बावजूद उनकी बात नहीं सुनी गई. उनको जब पुल के घटिया निर्माण की जानकारी मिली तो उन्होंने न केवल इसकी शिकायत विभागीय अधिकारियों को की थी, बल्कि विधानसभा में भी सवाल उठाया था. इसके बाद इंजीनियरों की टीम ने मौके पर पहुंच कर खानापूर्ति कर काम को अंजाम दिया.

यह पुल खरवाया और इंदुर्खी गांव को जोड़ता था. पुल की मांग ग्रामीण काफी समय से कर रहे थे. अब यह तेज बारिश के चलते भ्रष्टाचार की भेंट चढ़ गया.

First published: 11 September 2018, 15:00 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी