Home » मध्य प्रदेश » Madhya pradesh Election: MP Governor Anandiben Patel asking vote for BJP leaders in Satna
 

पद की गरिमा भूलीं MP की राज्यपाल आनंदीबेन, BJP नेताओं को बताया कैसे मिलते हैं वोट

कैच ब्यूरो | Updated on: 28 April 2018, 11:07 IST

मध्य प्रदेश की राज्यपाल आनंदीबेन पटेल नए विवादों में फंसती नजर आ रही हैं. दरअसल अपने सतना और चित्रकूट दौरे पर उन्होंने राजनीतिक बयानबाजी कर बीजेपी के लिए वोट लेने का ज्ञान दे दिया. संवैधानिक पद पर होने के बाद भी सतना एयरपोर्ट में उन्होंने महापौर सहित अन्य जनप्रतिनिधियों की मौजूदगी में खुलकर कहा कि अधिकारियों को तो वोट नहीं लेना है लेकिन हमें तो वोट चाहिए.

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, अपने दौरे में लोगों से मुलाकात के बाद क्षेत्र में कुपोषण की जानकारी मिलने के बाद वे भाजपा के जनप्रतिनिधियों को राजनीतिक ज्ञान देती नजर आईं. इस दौरान उन्होंने भाजपा की महापौर ममता पांडेय से कहा कि ऐसे वोट नहीं मिलेंगे. वोट चाहिए तो एक एक कुपोषित बच्चा गोद लो. उनके घर जाओ और बच्चों के सिर में हाथ फेरो. वरना वोट नहीं मिलेगा.

 

दरअसल, अपने दौरे के बाद वापसी के वक्त आनंदी बेन हवाई अड्डे पर चिकित्सकों को बुलाकर बात कर रही थीं. उन्होंने कहा कि कि मुझे पता चला है कि चित्रकूट, सतना और परसमनिया पठार इलाके में कुपोषण ज्यादा है. यह कुपोषण कैसे दूर करना है कलेक्टर को बता दिया है. फिर उन्होंने चिकित्सकों सहित मौजूद भाजपा जनप्रतिनिधियों से मुखातिब होते हुए कहा कि कुपोषण दूर करने के लिये बच्चों को गोद लीजिए. अभियान चलाइए.

इसके बाद उन्होंने भाजपा महापौर ममता पाण्डेय से पूछा कि इस पर क्या हो सकता है, तब महापौर ने बताया कि उन्होंने और अध्यक्ष ने बच्चों को गोद लिया है. तब राज्यपाल ने कहा कि इससे नहीं चलेगा पार्षद को भी इसमें लगाओ. वो भी एक बच्चे को गोद लें. ये हमारा दायित्व है. हम चुने हुए लोग हैं.

पढ़ें- UP Board Result 2018: इंतजार खत्म, बिना इंटरनेट के ऐसे देखें रिजल्ट

फिर उन्होंने सीधे तौर पर राजनीतिक इशारा किया और कहा, नहीं तो वोट ऐसे नहीं मिलेंगे. उनके घर जाओ, बच्चों के सिर पर हाथ फिराओ. उनसे मिलो. इसके बाद अधिकारियों की ओर इशारा करते हुए कहा कि इन्हें तो वोट नहीं लेना है. वोट तो हमें लेना है. इसलिये इसमें जुट जाइए.

First published: 28 April 2018, 11:07 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी