Home » मध्य प्रदेश » Madhya pradesh: Guidelines issued to take strict action on the demand of votes on religion and caste basis
 

मप्र : धर्म व जाति के नाम पर वोट मांगने वाले राजनीतिक दलों पर होगी सख्त कार्रवाई, जारी हुए दिशानिर्देश

कैच ब्यूरो | Updated on: 16 October 2018, 14:59 IST
(file photo )

मध्य प्रदेश विधानसभा चुनाव की तारीख का ऐलान हो गया है. 28 नवंबर को विधानसभा चुनाव के लिए वोट डाले जाएंगे. इसके लिए सभी दलों ने अपनी कमर कस ली है. सभी दल अपने अपने पक्ष में माहौल बनाने में लगे हुए हैं. वहीं चुनाव आयोग भी अपनी तैयारी में जुट गया है. चुनाव आयोग न जाति धर्म के नाम पर वोट मांगने वालों पर कड़ा शिकंजा कसने की तैयारी शुरू कर दी है. जाति धर्म के नाम पर वोट मांगने वालों के खिलाफ सख्त कार्रवाई करने के आदेश जारी किए गए है. ग्वालियर में अधिकारियों को इसको लेकर दिशा निर्देश जारी किए हैं.

 ग्वालियर के जिलाधिकारी व जिला निर्वाचन अधिकारी अशोक कुमार वर्मा ने कहा कि धर्म व जाति के नाम पर वोट मांगने को आदर्श आचार संहिता के प्रावधानों का स्पष्ट उल्लंघन माना जाएगा. उन्होंने इस संदर्भ में आवश्यक दिशानिर्देश भी जारी किए.

वर्मा ने सोमवार को ग्वालियर में अधिकारियों के साथ बैठक के बाद कहा, "निर्वाचन आयोग ने धर्म व जाति के आधार पर वोट मांगकर आचार संहिता का उल्लंघन करने वाले राजनीतिक दलों व उम्मीदवारों के खिलाफ सख्त कार्रवाई करने के निर्देश दिए हैं.

वर्मा ने विधानसभा निर्वाचन कार्य से जुड़े निर्वाचन अधिकारियों सहित सभी नोडल अधिकारियों को आयोग के दिशानिर्देशों से अवगत कराया. इसके साथ ही आचार संहिता का उल्लंघन करने वालों के खिलाफ कार्रवाई करने की हिदायत दी.

ये भी पढ़ें- मध्य प्रदेश: पिछले 15 दिन में BJP को दूसरा झटका, एक और पूर्व विधायक ने थामा कांग्रेस का हाथ

First published: 16 October 2018, 14:59 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी