Home » मध्य प्रदेश » Mandsaur rape case: Court pronounces death sentence to accused Irfan and Asif
 

मंदसौर: सात साल की मासूम से दरिंदगी मामले में कोर्ट ने दोनों दोषियों को सुनाई मौत की सजा

कैच ब्यूरो | Updated on: 21 August 2018, 16:01 IST

मध्य प्रदेश के मंदसौर में एक 7 साल की बच्ची के किडनैप और रेप मामले में कोर्ट ने दोनों आरोपियों को मौत की सजा सुनाई है. कोर्ट ने दोनों दोषियों इरफान और आसिफ को दोषी पाया था. 7 वर्षीय पीड़िता ने ही पिछले महीने ही विशेष अदालत में चल रही सुनवाई के दौरान अपने मुजरिम इरफान और आसिफ की पहचान की थी.

बता दें कि मंदसौर में एक 7 साल की बच्ची को स्कूल से घर वापस जाते समय किडनैप कर लिया गया था जिसके बाद उसके साथ रेप भी किया गया था. फिर उसे झाड़ियों में फेंक दिया गया था. बच्ची का इलाज इंदौर के एमवाय अस्पताल में चल रहा है. मासूम के साथ इस कदर हैवानियत की गयी कि डॉक्टर्स को उसकी आंत कटनी पड़ी थी.

पढ़ें- मंदसौर: 7 साल की मासूम के साथ हुई थी निर्भया जैसी दरिंदगी, जानकर कांप जाएगी रूह

मीडिया रिपोर्ट्स की मानें तो बच्ची के शरीर पर कई जगह दांतों के निशान थे. नाक पर भी गहरे जख्म पाए गए थे. यहां तक की जख्म इतने गहरे थे कि डॉक्टर्स को नाक में नेसोगेस्ट्रिक ट्यूब लगानी पड़ी थी. 7 साल की छोटी सी बच्ची के प्राइवेट पार्ट्स पर भी गहरे जख्म पाए गए थे. इतने गहरे जख्मों के इलाज के लिए डॉक्टर्स को ऑपरेशन के जरिये आंतों को काटना पड़ा था.

पढ़ें- मंदसौर रेप: पीड़ित बच्ची ने मां से की पुकार- मम्मी मुझे ठीक कर दो या मार दो

इस अमानवीय घटना पर मंदसौर सहित पूरे मध्य प्रदेश में लोगों ने आरोपियों को तुरंत फांसी देने की मांग करते हुए विरोध प्रदर्शन किया था. मुस्लिम समुदाय के लोगों ने भी नाराजगी जताते हुए आरोपियों को किसी कब्रिस्तान में जगह न देने की बात कही थी.

First published: 21 August 2018, 16:01 IST
 
अगली कहानी